Ticker

99/recent/ticker-posts

Sensex में इन 5 वजहों से आई दमदार रैली, 4 दिन में 2,000 अंक से ज्यादा हुआ मजबूत


 

सकारात्मक वैश्विक संकेतों के अलावा, ऑयल प्रोड्यूसर्स और रिफाइनर्स पर विंडफाल टैक्स में कटौती से शेयर बाजार का सेंटीमेंट मजबूत हुआ है

Indian stocks markets : सकारात्मक वैश्विक संकेतों के चलते शेयर बाजार में बुधवार को लगातार चौथे दिन दमदार रैली देखने को मिली। दोपहर 12 बजे निफ्टी (Nifty) लगभग 700 अंक से ज्यादा मजबूती के साथ कारोबार कर रहा है। पिछले चार सेशंस में सेंसेक्स 2,000 से ज्यादा अंक चढ़ चुका है। सकारात्मक वैश्विक संकेतों के अलावा, ऑयल प्रोड्यूसर्स और रिफाइनर्स पर विंडफाल टैक्स में कटौती से भी बाजार का सेंटीमेंट मजबूत हुआ है। सरकार ने दो चार्जेस लगाने के बाद एक महीने से भी कम वक्त में पेट्रोल को एक्साइज ड्यूटी से भी छूट दी है।

मार्केट एक्सपर्ट्स के मुताबिक, इन बदलावों से रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries), ओएनजीसी (ONGC) जैसी कंपनियों को फायदा मिलेगा।

लेवी समाप्त, घटाया विंडफाल टैक्स

सरकार ने बुधवार को गैसोलीन एक्सपोर्ट पर लगाई गई लेवी को समाप्त कर दिया है। इसके अलावा तीन सप्ताह से भी कम समय में दूसरे ईंधनों पर लगाए गए विंडफाल टैक्स में भी कटौती की है। यह कदम देश की बड़ी ईंधन एक्सपोर्टर रिलायंस इंडस्ट्रीज और टॉप क्रूड एक्सप्लोरर ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉर्पोरेशन के लिए बड़ी राहत लेकर आया है।

सरकारी अधिसूचना के मुताबिक केंद्र ने डीजल और एविएशन फ्यूल (विमानन ईंधन) शिपमेंट पर लागू विंडफाल टैक्स में 2 रुपये प्रति लीटर की कमी की है और गैसोलीन निर्यात पर 6 रुपये प्रति लीटर लेवी को पूरी तरह से समाप्त कर दिया है। इस खबर के बाद आरआईएल और ओएनजीसी में 2.50 फीसदी से 5 फीसदी तक तेजी बनी हुई है।

एफआईआई की खरीदारी

विदेशी निवेशक यानी FII पिछले दो सेशंस से भारतीय बाजार में खरीदार बने हुए हैं, जो 2022 में अभी तक बिकवाल बने हुए थे। एफआईआई 2022 में अभी तक भारतीय शेयर बाजार में 30 अरब डॉलर से ज्यादा की बिकवाली कर चुके हैं।

डॉलर इंडेक्स (dollar index) हाल के हाई से नीचे आया है, हालांकि यह अभी तक मजबूत बना हुआ है।

कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट

घरेलू बाजार को कच्चे तेल की कीमतों में नरमी से भी फायदा मिल रहा है। रूस पर पश्चिमी देशों की बंदिशों से तेल की कीमतों में तेजी आई थी, लेकिन महंगाई को काबू में करने के लिए केंद्रीय बैंकों की मौद्रिक सख्ती से कीमतों पर दबाव पड़ा है। इससे मंदी की चिंताएं बढ़ गई हैं और एनर्जी की डिमांड घट सकती है।

अमेरिकी बाजारों में रैली

एक मार्केट एक्सपर्ट के मुताबिक, अच्छी खबरों के चलते निफ्टी ने 15,183 के स्तर से दमदार वापसी की है। अच्छी कॉर्पोरेट अर्निंग्स के चलते अमेरिका बाजारों में दमदार रैली देखने को मिली है। डॉलर इंडेक्स 108 के स्तर से घटकर 106.6  पर आ गया है।

आईटी सेक्टर कर सकता है दमदार वापसी

इसके अलावा, अग्रणी कंपनियों के नतीजे अच्छे रहने का अनुमान है। आईटी सेक्टर में हाल की गिरावट के बाद उनके वैल्यूएशन अच्छे नजर आ रहे हैं। यदि, अमेरिका मंदी को खारिज करते हुए उबरने में कामयाब रहता है तो आईटी सेक्टर दमदार वापसी कर सकता है।  हालांकि, एक्सपर्ट्स ने इनवेस्टर्स को सतर्क रहने की सलाह दी है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ