Ticker

99/recent/ticker-posts

Adani News: एयरपोर्ट्स के पास एरोसिटी विकसित करेगा अडानी ग्रुप, जानिए पूरा प्लान

 

अडानी ग्रुप लगातार देश में कारोबार विस्तार करने में लगा हुआ है। इसी बीच खबर यह है कि अडानी देश में मौजूद सभी एयरपोर्ट्स के पास बड़े स्तर पर रियल एस्टेट प्रोजेक्ट्स जैसे एरोसिटी विकसित करने की योजना पर कार्य कर रहा है।

ईटी की एक रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि अडानी एयरपोर्ट्स पर अपने शहर के विकास पोर्टफोलियो के तहत अपने सभी हवाई अड्डों पर 500 एकड़ से अधिक भूमि पर लगभग 70 मिलियन वर्ग फुट विकसित करने की योजना बनाई है।  रिपोर्ट में आगे बताया गया है कि इन ‘एरोसिटी’ में होटल , कन्वेंशन सेंटर, रिटेल, एंटरटेनमेंट, हेल्थकेयर,  लोजिस्टिक, कमर्शियल स्पेस और कई अन्य रियल एस्टेट प्रोजेक्ट बनाने की योजना है।

होटल कंपनियों के साथ बातचीत कर रहा अडानी ग्रुप: रिपोर्ट में बताया गया है कि अडानी ग्रुप ने इसके लिए देश की बड़ी होटल कंपनियों के साथ बातचीत करनी शुरू कर दी है। इसमें कंपनी मैरियट इंटरनेशनल , इंटरकांटिनेंटल होटल्स ग्रुप (IHG) और हिल्टन जैसे बड़े ब्रांड का नाम शामिल हैं। हालांकि अडानी ग्रुप की ओर से इस पर कोई भी अधिकारिक बयान नहीं आया है।

अडानी एयरपोर्ट ने जुटाई पूंजी: अडानी एयरपोर्ट होल्डिंग्स लिमिटेड (AAHL) जो कि अडानी ग्रुप की फ्लैगशिप कंपनी अडानी इंटरप्राइजेज की सहायक कंपनी है। उसने इसी साल मई महीने में 250 मिलियन डॉलर की फंडिंग ईसीबी ( External Commercial Borrowing) के जरिए जुटाई है।

अडानी एयरपोर्ट के पोर्टफोलियो में मुंबई, जयपुर, अहमदाबाद, लखनऊ, मंगलुरु गुवाहाटी और तिरुवनंतपुरम के एयरपोर्ट शामिल हैं।  कंपनी की वेबसाइट के अनुसार, एएएचएल के पास देश के टॉप 10 घरेलू मार्गों में से 50 फीसदी, देश के कुल एयर ट्रैफिक का 23 फीसदी और भारत के कुल एयर कार्गो का 30 फीसदी पर नियंत्रण है। कंपनी के सभी एयरपोर्ट मिलकर 200 मिलियन से अधिक यात्रियों को संभालते हैं।  

टेलीकॉम सेक्टर में उतरने की तैयारी: अडानी ग्रुप टेलीकॉम सेक्टर में उतरने की तैयारी कर रहा है। अडानी ग्रुप की कंपनी अडानी डाटा नेटवर्क आगामी 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी में भारती एयरटेल और रिलायंस जियो के साथ मुकाबला करेगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ