Ticker

99/recent/ticker-posts

आयकर विभाग के छापों के बावजूद 5% तक चढ़ा यह शेयर, कंपनी ने दिया यह बयान

 

पावर मेक ने कहा कि इस तलाशी का उसके प्रदर्शन पर कोई असर नहीं होगा। हालांकि, कंपनी ने उसके परिसरों पर आईटी विभाग की छापेमारी की वजह का खुलासा नहीं किया है

Power Mech Projects : आयकर विभाग ने लिस्टेड कंस्ट्रक्शन इंजीनियरिंग कंपनी पावर मेक प्रोजेक्ट्स (Power Mech Projects) के कई परिसरों में छापेमारी की। इस छापेमारी का सोमवार को कंपनी के शेयरों पर कोई असर नहीं दिखा और इसमें मजबूती दर्ज की गई।

पावर मेक ने कहा कि इस तलाशी का उसके प्रदर्शन पर कोई असर नहीं होगा। हालांकि, कंपनी ने उसके परिसरों पर आईटी विभाग की छापेमारी की वजह का खुलासा नहीं किया है। विभाग ने 13 से 17 जुलाई, 2022 के बीच कंपनी के पंजीकृत कार्यालय या अन्य कार्यालयों पर छापेमारी की थी।

कंपनी ने तलाशी में किया पूरा सहयोग

एक रेगुलेटरी फाइलिंग में पावर मेक ने कहा, आयकर विभाग ने आयकर अधिनियम, 1961 के सेक्शन के मिले अधिकारों के तहत हमारे पंजीकृत कार्यालय और अन्य परिसरों पर 13 जुलाई से 17 जुलाई, 2022 के बीच तलाशी ली थी। कंपनी ने कहा, उसकी तरफ से जानकारियां और प्रमाण पत्र उपलब्ध कराने में आयकर विभाग को पूरा सहयोग दिया गया।

परिचालन पर नहीं होगा असर

पावर मेक ने अपनी फाइलिंग में कहा, हम बताना चाहते हैं कि इस कवायद का कंपनी के परिचालन पर कोई असर नहीं होगा। हम निरंतर और बिना शर्त समर्थन के लिए अपने कर्मचारियों के प्रति आभार प्रकट करना चाहते हैं।

5 फीसदी तक चढ़े शेयर

बीएसई पर सोमवार, 18 जुलाई को पावर मेक के शेयर 2.67 फीसदी मजबूत होकर 862 रुपये पर बंद हुए। इंट्राडे के दौरान शेयर ने 870.85 रुपये के उच्चतम और 810.95 रुपये के निचले स्तर छूए थे। पिछले महीने कंपनी को 521.95 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट्स के लिए लेटर ऑफ अवार्ड्स हासिल हुए थे।

पावर मेक प्रोजेक्ट्स हैदराबाद बेस्ड अग्रणी इन्फ्रास्ट्रक्चर कंस्ट्रक्शन कंपनियों में से एक है। उसकी भारत के साथ ही वैश्विक स्तर पर मौजूदगी है। कंपनी पावर और इन्फ्रास्ट्रक्चर सेक्टरों में कई सेवाएं उपलब्ध कराती है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ