Ticker

99/recent/ticker-posts

अडानी ग्रुप का बड़ा फैसला, 30 रुपये सस्ता किया खाने का तेल

 

फॉर्च्यून ब्रांड के तहत उत्पादों की बिक्री करने वाली खाद्य तेल कंपनी अडानी विल्मर ने तेल की वैश्विक स्तर पर कीमतों में गिरावट के बीच खाद्य तेल की कीमतों में 30 रुपये प्रति लीटर तक की कटौती करने की सोमवार को घोषणा की। सबसे ज्यादा कटौती सोयाबीन तेल के दामों में की गई है।

नई कीमतों वाली खेप बाजार में जल्द पहुंच जाएगी। इससे पहले, धारा ब्रांड के तहत खाद्य तेल की बिक्री करने वाली मदर डेयरी ने सोयाबीन और राइस ब्रान ऑइस के दामों 14 रुपये प्रति लीटर की कटौती की थी। खाद्य मंत्रालय ने खाद्य तेल की कीमतों पर चर्चा करने के लिए छह जुलाई को बैठक बुलाई थी

जिसमें सभी खाद्य तेल कंपनियों से वैश्विक स्तर पर कीमतों में गिरावट का लाभ उपभोक्ताओं तक पहुंचाने का निर्देश दिया गया था। कंपनी ने एक बयान में कहा,”दामों में वैश्विक स्तर पर कटौती होने और खाद्य तेल के दामों में कमी का लाभ उपभोक्ताओं तक पहुंचाने के सरकार के प्रयासों के मद्देनजर अडानी विल्मर ने खाद्य तेल की कीमतों में और कटौती की है। पिछले महीने भी दाम कम किए गए थे।

सोयाबीन का तेल अब 165 रुपये में मिलेगा

फॉर्च्यून सोयाबीन तेल के दाम 195 रुपये प्रति लीटर से घटाकर 165 रुपये प्रति लीटर किए गए हैं। सूरजमुखी तेल के दाम 210 रुपये प्रति लीटर से घटाकर 199 रुपये प्रति लीटर किए गए हैं। सरसों के तेल का अधिकतम खुदरा मूल्य 195 रुपये प्रति लीटर से घटाकर 190 रुपये प्रति लीटर किया गया है। फॉर्च्यून राइस ब्रान तेल की कीमत 225 रुपये प्रति लीटर से घटाकर 210 रुपये प्रति लीटर की गई है।

अडानी विल्मर के प्रबंध निदेशक एवं CEO आंग्शू मलिक ने कहा, ”हमने वैश्विक स्तर पर कीमतों में कमी का लाभ उपभोक्ताओं तक पहुंचाया है और नई कीमतों वाली खेप बाजार में जल्द ही पहुंच जाएगी।”

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ