Ticker

99/recent/ticker-posts

विस्तार योजना के ऐलान के बाद Ultratech Cement ने हिट किया 52 वीक लो, जानिए अब क्या है एनालिस्ट की राय

 


ब्रोकरेज फर्म सीएलएसए ने इस स्टॉक पर Buy रेटिंग देते हुए इसका टारगेट प्राइस घटाकर 7640 रुपये कर दिया है।

देश की दिग्गज सीमेंट कंपनी Ultratech Cement ने गुरुवार को बताया है कि वह अपने क्षमता विस्तार पर 12,886 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। इस निवेश से कंपनी के उत्पादन क्षमता में 22.6mtpa बढ़ोतरी करने का लक्ष्य रखा गया है। उत्पादन क्षमता में यह विस्तार ब्राउन फील्ड (किसी पहले से स्थापित ईकाई की क्षमता बढ़ाना) और ग्रीन फील्ड (नई ईकाई लगाना) दोनों तरीके से किया जाएगा।

इस बारे में जारी प्रेस विज्ञप्ति में कंपनी के मैनेजमेंट में कहा है कि कंपनी की यह नई क्षमता विस्तार योजना वित्त वर्ष 2025 तक पूरी हो जाने की संभावना है। कंपनी के मैनजमेंट ने यह भी बताया है कि वर्तमान में चल रही कंपनी की विस्तार योजनाएं सही तरीके से चल रही हैं और 2023 तक ये पूरी भी हो जाएंगी। इन सारी विस्तार योजनाओं के पूरे हो जाने के बाद Ultratech Cement की कुल उत्पादन क्षमता बढ़कर 159.25 mtpa हो जाएगी।

हालांकि क्षमता विस्तार की इस खबर के आने के बाद बाजार में आज Ultratech Cement के शेयरों में भारी बिकवाली आती दिखी और बीएसई पर इंट्राडे में यह स्टॉक 6.64 फीसदी टूटकर 5,608 रुपये के अपने 52 वीक के नए लो पर जाता नजर आया। बता दें कि कल के कारोबार में यह स्टॉक 6,007 रुपये के स्तर पर बंद हुआ था। Ultratech Cement अपने 5-day, 20-day, 50-day, 100-day और 200-day मूविंग एवरेज के नीचे कारोबार कर रहा है। यह स्टॉक 1 साल में 15.22 फीसद टूटा है जबकि इस साल की शुरुआत से अब तक इसमें 26 फीसदी की गिरावट आई है। बीएसई पर कंपनी की मार्केट कैप 1.62 लाख करोड़ रुपये है।

इस विस्तार योजना पर क्या है ब्रोकरेज की राय

एनालिस्ट Emkay Global Financial Services का कहना है कि कंपनी के इस अगले चरण के विस्तार योजना से कंपनी के वॉल्यूम में बढ़त होगी और सीमेंट सेक्टर में उसकी लीडरशिप पोजिशन कायम रहेगी।

Emkay की रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि कमजोर डिमांड और ऊंची ईंधन लागत वाले वर्तमान परिस्थितियों में सीमेंट सेक्टर में किसी नई कंपनी या नए क्षमता विस्तार के ऐलान का मार्केट में शार्ट टर्म में निगेटिव असर पड़ सकता है। Emkay Global ने आगे कहा है कि हाल ही में अडानी ग्रुप ने होलसिम के भारतीय सीमेंट के कारोबार के अधिग्रहण के लिए एक करार किया है। अडानी की इस खरीद के चलते अडानी ग्रुप भारत की सीमेंट इंडस्ट्रीज का दूसरा सबसे बड़ा प्लेयर बन जाएगा। इसकी स्थापित उत्पादन क्षमता करीब 50 करोड़ टन है।

आज की गिरावट के बावजूद Emkay Global अल्ट्राटेक पर बुलिश है और लंबी अवधि के नजरिए से उसने 7300 रुपये का लक्ष्य दिया है। Emkay का कहना है कि इस स्टॉक में वर्तमान लेवल से 21 फीसदी की तेजी देखने को मिल सकती है।

एक दूसरे ब्रोकरेज फर्म मोतीलाल ओसवाल का कहना है कि Ultratech Cement वित्त वर्ष 2026 में नेट कैश पॉजिटिव हो जाएगी। मोतीलाल ओसवाल सीमेंट सेक्टर पर लॉन्ग टर्म नजरिए से पॉजिटिव है लेकिन उसका मानना है कि शॉर्ट टर्म में यह सेक्टर दबाव में रह सकता है।

मॉर्गन स्टेनली ने Ultratech Cement को overweight रेटिंग देते हुए इसके लिए 8800 रुपये का लक्ष्य दिया है। ब्रोकरेज का कहना है कि कंपनी की विस्तार योजना हमारे सोच के अनुरूप है। आगे डिमांड में मजबूती नजर आएगी। ऐसे में सीमेंट सेक्टर के सबसे बड़े प्लेयर के तौर पर अल्ट्राटेक अपने आपको बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए तैयार कर रहा है। इसके अलावा कंपनी की बैलेंसशीट भी काफी अच्छे पोजिशन में है।

एक और ब्रोकरेज फर्म सीएलएसए ने इस स्टॉक पर Buy रेटिंग देते हुए इसका टारगेट प्राइस घटाकर 7640 रुपये कर दिया है। सीएलएसए का कहना है कि कंपनी की इस विस्तार योजना से आगे उसकी लीडरशिप पोजिशन को मजबूती मिलेगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ