Ticker

99/recent/ticker-posts

Textiles Export FY22: भारतीय कपड़ा निर्यात में रिकॉर्ड बढ़ोतरी, 44.4 अरब अमेरिकी डॉलर पर पहुंचा

 

नई दिल्ली, पीटीआइ। Textiles Export FY22 । भारत का कपड़ा और कपड़ा निर्यात वित्त वर्ष 2021-22 में 44.4 अरब डॉलर पर पहुंच गया है, जो अब तक किसी भी वित्त वर्ष से सबसे अधिक है। सरकार ने मंगलवार को बताया कि कपड़ा निर्यात वित्त वर्ष 2021-22 में 44.4 अरब डॉलर पर पहुंच गया है। सरकार ने बताया कि निर्यात की लिस्ट में हैंडक्रॉफ्ट भी शामिल है तथा वित्त वर्ष 2021-22 में किया गया निर्यात 2020-21 की तुलना में 41 प्रतिशत ज्यादा है। वहीं, बात की जाए वित्त-वर्ष 2019-20 की तो यह 26 फीसद अधिक है।

किन-किन देशों में हुआ कितना निर्यात

कपड़ा मंत्रालय के अनुसार, भारत से अमेरिका को सबसे अधिक 27 प्रतिशत का कपड़ा और परिधान निर्यात किया गया। इसके बाद 18 प्रतिशत यूरोपीय संघ को किया गया है। वहीं, बांग्लादेश को 12 प्रतिशत और संयुक्त अरब अमीरात को 6 प्रतिशत निर्यात किया गया है।

सूती वस्त्रों के निर्यात में हुई कई फीसद की वृद्धि

एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि उत्पाद कैटेगिरी के संदर्भ में सूती वस्त्रों का निर्यात 17.2 अरब डॉलर का था। इसकी कुल निर्यात में 39 प्रतिशत हिस्सेदारी रही है। वित्त वर्ष 2020-21 के मुकाबले इस वित्त-वर्ष में सूती वस्त्रों के निर्यात में 54 प्रतिशत और 2019-20 की तुलना में 67 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

इतना हुआ तैयार कपड़ों का निर्यात

इसके अलावा तैयार कपड़ों की बात करें तो इसके निर्यात की 36 प्रतिशत की हिस्सेदारी रही है। इसके साथ तैयार कपड़ों का निर्यात 16 अरब डॉलर का रहा, जो वित्त वर्ष 2020-21 की तुलना में 2021-22 के दौरान 31 प्रतिशत और 2019-20 की तुलना में 3 प्रतिशत अधिक है।

हैंडीक्रॉफ्ट और मानव निर्मित कपड़ा की हिस्सेदारी

मंत्रालय के अनुसार मानव निर्मित कपड़ा और परिधान का कुल निर्यात 6.3 अरब डॉलर के साथ 14 प्रतिशत तथा हस्तशिल्प (handicrafts) की 2.1 अरब डॉलर के साथ 5 प्रतिशत हिस्सेदारी रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ