Ticker

99/recent/ticker-posts

भारत पर बड़ा दांव लगाने की तैयारी में Singapore Airlines, कहा- 2025 तक होगा तीसरा बड़ा एविएशन मार्केट, बढ़ाएगी ऑपरेशन

 


सिंगापुर एयरलाइंस ने कहा, भारत कंपनी के लिए खासा अहम है, क्योंकि यह एक बड़ा बाजार बनने जा रहा है

Singapore Airlines : सिंगापुर एयरलाइंस की फ्लाइट आखिरकार भारत के लिए उड़ान भरने के लिए तैयार है। भले ही ऐसा काफी देर से हो रहा है। साफ है कि सिंगापुर एयरलाइंस भारत को भविष्य के एक बड़े हब के रूप में देख रही है।

यात्रा की शुरुआत और एयरलाइंस के रिकॉर्ड सालाना घाटे से उबरने के साथ, चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर गोह शून फोंग (Goh Choon Phong) एक मल्टी-हब स्ट्रैटजी पर काम करना चाहते हैं, जिससे उसके स्वामित्व वाली एयरलाइंस को सिंगापुर के बाहर मिलने वाली डिमांड से फायदा होगा।

दशक के मध्य तक तीसरा बड़ा बाजार बन सकता है भारत

गोह ने ब्लूमबर्ग न्यूज से बातचीत में कहा, “जाहिर तौर पर भारत खासा अहम है, क्योंकि यह एक बड़ा बाजार बनने जा रहा है।” उन्होंने इस दशक के मध्य तक भारत के चीन और अमेरिका के बाद तीसरा बड़ा एविएशन बाजार बनने की उम्मीद जाहिर की।

यह बाजार दशकों से सिंगापुर को आकर्षित करता रहा है। सिंगापुर एयरलाइंस ने 2001 में मुंबई बेस्ड टाटा ग्रुप से भागीदारी की थी। 20 साल के दौरान, मिडिल ईस्ट की राइवल कंपनियों ने भारतीय बाजार में पैर जमाने की कोशिश की है। एतिहाद एयरवेज (Etihad Airways PJSC) ने जेट एयरवेज में निवेश किया है, जिसके फाउंडर नरेश गोयल ने दिवालिया की स्थिति में अपनी विमानन कंपनी चलाई थी। वहीं कतर भी छह साल पहले भारतीय शहरों और दोहा के बीच ज्यादा फ्लाइंट्स के लिए बातचीत कर रही थी। कतर एयरवेज तो कई बार भारत की सबसे बड़ी एयरलाइन इंडिगो में हिस्सेदारी लेने में दिलचस्पी दिखा चुकी है।

बढ़ा सकती है उड़ानों की संख्या

उधर, पीटीआई की एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय बाजार में डिमांड में मजबूत सुधार से उत्साहित सिंगापुर एयरलाइंस ने भारत के लिए उड़ानों की संख्या बढ़ाने की योजना बनाई है। अभी यह समूह अपनी महामारी-पूर्व की तुलना में लगभग 75 फीसदी क्षमता पर ही काम कर रहा है।

सिंगापुर एयरलाइंस ग्रुप (सिंगापुर एयरलाइंस और किफायती सेवाएं देने वाली स्कूट) मौजूदा समय में पूरे भारत में 13 शहरों के लिए अपनी सेवाएं देता है। हाल में सिंगापुर एयरलाइंस के एक वरिष्ठ कार्यकारी ने कहा कि एयरलाइन आने वाले महीनों में भारत के लिए और अधिक उड़ानों की घोषणा कर सकती है।

भारत में दिख रही है अच्छी डिमांड

चांगी हवाई अड्डे पर बातचीत में सिंगापुर एयरलाइंस के कार्यकारी उपाध्यक्ष (वाणिज्यिक) ली लिक सीन ने संवाददाताओं से कहा, "भारतीय बाजार में भी बहुत मजबूती से सुधार हो रहा है। हम अच्छी संख्या में यात्रियों की उपस्थिति देख रहे हैं। हम कुछ समय में फ्लाइट्स की संख्या बढ़ाने की घोषणा कर सकते हैं। यह समय अक्टूबर या अगला साल हो सकता है।’’

अभी सिंगापुर एयरलाइंस आठ भारतीय शहरों - चेन्नई, मुंबई, दिल्ली, बेंगलुरु, कोलकाता, अहमदाबाद, कोच्चि और हैदराबाद से सिंगापुर के लिए 73 साप्ताहिक उड़ानें संचालित करती है। स्कूट छह शहरों - अमृतसर, कोयंबटूर, हैदराबाद, तिरुचिरापल्ली, त्रिवेंद्रम और विशाखापत्तनम से 38 उड़ानें संचालित करती है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ