Ticker

99/recent/ticker-posts

फिर महंगे होंगे जियो, एयरटेल और वोडाफोन के मोबाइल प्लान, FY23 में 25% बढ़ेगी इन कंपनियों की आमदनी

 


Tariff Hike: मोबाइल टैरिफ के दाम एक बार फिर से बढ़ने वाले हैं। देश की तीनों प्राइवेट टेलीकॉम कंपनियां- रिलायंस जियो (Relaince Jio), भारती एयरटेल (Bharti Airtel) और वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) दूसरे तिमाही में एक बार फिर से अपने मोबाइल प्लान के दामों का बढ़ाने का सिलसिला शुरू करेंगी।

मंगलवार को जारी एक रिपोर्ट में यह कहा गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, मोबाइल टैरिफ में बढ़ोतरी से वित्त वर्ष 2023 में इन कंपनियों की आमदनी 20 से 25 फीसदी तक बढ़ सकती है।

घरेलू रेटिंग एजेंसी क्रिसिल की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि टेलीकॉम कंपनियां 5जी नेटवर्क और स्पैक्ट्रम में निवेश कर सकें, इसके लिए उन्हें प्रत्येक यूजर पर होने वाली औसत कमाई बढ़ाने की जरूरत है। यदि वे ऐसा नहीं करेंगे तो उनकी सेवाओं की क्वालिटी खराब हो सकती है। बता दें कि टेलीकॉम कंपनियों ने कई सालों बाद दिसंबर 2019 से मोबाइल प्लान के दाम बढ़ाना शुरू किया था।।

रिपोर्ट के मुताबिक, "देश की टॉप-3 टेलीकॉम कंपनियों के रेवेन्यू में वित्त वर्ष 2023 के दौरान 20 से 25 फीसदी की जोरदार बढ़ोतरी की उम्मीद है।" रिपोर्ट में आगे कहा गया कि 2021-22 में प्रति यूजर औसत आमदनी (ARPU) में 5 फीसदी की धीमी बढ़ोतरी के बाद अब 2022-23 में 15-20 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी की उम्मीद है।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि टैरिफ बढ़ाने से इन कंपनियों का ऑपरेटिंग प्रॉफिट मार्जिन भी वित्त वर्ष 2023 में 1.8 से 2 फीसदी तक बढ़ सकता है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि वित्त वर्ष 2022 के दौरान प्रति यूजर औसत आमदनी (ARPU) में 5 फीसदी की मामूली दर्ज की गई थी। हालांकि इस साल यह आंकड़ा 15 से 20 फीसदी रह सकता है क्योंकि पिछले साल की बढ़ोतरी का पूरा फायदा इस साल मिलेगा, साथ ही अगली तिमाही में फिर से टैरिफ में बढ़ोतरी का फायदा भी मिलेगा।

चूंकि वित्त वर्ष 2023 के दौरान कंपनियों को नेटवर्क और नियामकी कैपिटल एक्सपेंडिचर पर अधिक खर्च करना पड़ सकता है। ऐसे में यह भी संभव है कि ARPU में ग्रोथ और टैरिफ में बढ़ोतरी से उनके बहीखातों पर कुछ दबाव कम हो।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ