Ticker

99/recent/ticker-posts

Zerodha के कोफाउंडर Nithin Kamath की यह सलाह नहीं मानी तो डूब सकता है आपका सारा पैसा

 

Zerodha के फाउंडर Nithin Kamath की यह सलाह नहीं मानी तो डूब सकता है आपका सारा पैसा

Zerodha's Nithin Kamath : लोग संभवतः आसानी से पैसा कमाने के लालच में ट्रेडिंग और इनवेस्टमेंट की ओर रुख करते हैं। यह लालच इतना ज्यादा होता है कि वे ट्रेडर्स ऊंचे रिटर्न के झांसे में आकर अपने लॉगिन क्रिडेंशियल्स तक उनके साथ साझा कर देते हैं।

नितिन कामत ने ट्वीट कर कहा, बैंक की तरह अपने लॉगिन क्रिडेंशियल्स बिल्कुल भी साझा न करें। एक ट्रेडिंग अकाउंट से पैसा बाहर निकालने के कई गलत तरीके हैं। तमाम इनवेस्टर्स लालच में आकर ऐसा कर देते हैं।

स्कैमर ने ऐसे लॉस दिखाकर उड़ा दिया पैसा

जिरोधा के फाउंडर ने ट्वीट किया, “ट्रेडर ऊंचे रिटर्न के झांसे में आकर एक ट्रेडर ने एक टेलिग्राम ग्रुप पर अपने लॉगिन क्रिडेंशियल्स साझा कर दिए थे। स्कैमर ने लॉस दिखाया और दूसरे खाते में पैसा ले गया। फिर गायब हो गया। अपने लॉगइन क्रिडेंशियल्स बिल्कुल भी साझा न करें।”

उन्होंने कहा कि एक बार जब ऐसा होता है तो पैसे को दो तरीकों से निकाला जाता है- पेनी स्टॉक्स खरीदकर, इलिक्विड ऑप्शन कांट्रैक्ट खरीदकर। कामत ने ट्वीटर किया, “पेनी स्टॉक्स खरीदकर उनकी कीमतें बढ़ाई जाती हैं। वहीं इलिक्विड ऑप्शन कांट्रैक्ट ऊंची कीमत पर खरीदे जाते हैं और निचली कीमत पर तेजी से कवरिंग की जाती है।”

उन्होंने आगे कहा कि टीओटीपी को अनिवार्य होने के बाद ऑनलाइन ब्रोकरेज जिरोधा में ऐसे स्कैम्स में खासी कमी आई है। टीओटीपी यानी टाइम बेस्ड वन टाइम पासवर्ड, टू फैक्टर अथांटिकेशन (2एफए) का एक सामान्य रूप है।

फ्रॉड से ऐसे बचें

क्या कर सकते हैं आप?

-आपकी तरफ से ट्रेड के लिए किसी के भी साथ अपने login credentials शेयर न करें।

-अपने खाते की सिक्योरिटी में एक अतिरिक्त लेयर जोड़ने के लिए टीओटीपी सेटअप तैयार करें।

-अगर आप ऑप्शंस नहीं समझते हैं तो कोई आपसे कहे भी तो उनमें ट्रेड न करें। ऑप्शंस जोखिम भरे होते हैं और ट्रेड से पहले आपको उन्हें समझने की जरूरत होती है।

-अगर आपने किसी को एक्सेस दी है और उसने आर्टीफिशियल लॉस दिखाया है तो आप पुलिस में शिकायत कर सकते हैं। हमारी कंप्लायंस टीम से संपर्क करें और हम आपकी मदद करेंगे।

-उंचे रिटर्न का दावा करने वाली स्टॉक टिप्स पर भरोसा न करें। निवेश से पहले अपनी रिसर्च खुद करें।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ