Ticker

99/recent/ticker-posts

Taking Stock:3 दिन की गिरावट के बाद हरे निशान में बंद हुआ बाजार, जानिए कल कैसी रह सकती है इसकी चाल

 

Taking Stock:3 दिन की गिरावट के बाद हरे निशान में बंद हुआ बाजार, जानिए कल कैसी रह सकती है इसकी चाल

Hem Securities के मोहित निगम का कहना है कि भारतीय बाजार में भारी उतार-चढ़ाव बना रहेगा जिसको ध्यान में रखते हुए निवेशकों को सर्तकता बनाए रखने की जरुरत है

लगातार 3 दिनों की गिरावट के बाद भारतीय इक्विटी बाजारों में आज तेजी देखने को मिली। मेटल, आईटी, पावर, रियल्टी और बैंकिंग स्टॉक में आई खरीदारी के चलते सेंसेक्स-निफ्टी आज हरे निशान में बंद हुए। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 503.27 अंक यानी 0.94 फीसदी की बढ़त के साथ 54252.53 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 144.35 अंक यानी 0.90 फीसदी की मजबूती के साथ 16,170.15 के स्तर पर बंद हुआ।

मिलेजुले ग्लोबल संकेतों के बीच भारतीय बाजार आज बढ़त के साथ खुला था, लेकिन इसने जल्द ही अपनी शुरुआती बढ़त गंवा दी। दोपहर के कारोबार में आई एकाएक खरीदारी के चलते सेंसेक्स-निफ्टी हरे निशान में आ गए और अंत में दिन के हाई के करीब बंद होने में कामयाब रहे।

Geojit Financial Services के विनोद नायर का कहना है कि भारी बिकवाली के बाद बाजार में अब दबाव से उबरने के संकेत दिखाई दिए हैं। शॉर्ट से मीडियम टर्म में बाजार में बाउंसबैक देखने को मिल सकता है। टेक्निकल नजरिए से देखें तो ब्रॉडर मार्केट ओवरसोल्ड हो गया है और वैल्यूएशन 3 साल के औसत के नीचे नजर आ गए हैं।

उन्होंने आगे कहा कि बाजार में हाल में आए करेक्शन की अहम वजह एफआईआई की भारी बिकवाली रही है। इसके साथ ही घरेलू खरीदारी में कमी देखने को मिली है। बाजार में अगर कोई उछाल आता है तो उसमें एफआईआई की बिकवाली थमने का अहम योगदान होगा। इस नजरिए से देखें तो जून में यूएस फेड और आरबीआई की तरफ से लिए जाने वाले फैसले काफी अहम होंगे।

उन्होंने यह भी कहा कि हमें यह भी ध्यान में रखना चाहिए कि भारत सरकार द्वारा महंगाई को रोकने के लिए किए गए वित्तीय फैसले घरेलू बाजार के लिए पॉजिटिव हैं।

शुक्रवार को कैसी रह सकती है बाजार की चाल

Hem Securities के मोहित निगम का कहना है कि भारतीय बाजार में भारी उतार-चढ़ाव बना रहेगा जिसको ध्यान में रखते हुए निवेशकों को सर्तकता बनाए रखने की जरुरत है। बाजार में आई हालिया गिरावट को फंडामेंटल तौर पर मजबूत स्टॉक्स में किस्तों में खरीदारी के मौके के रूप में भुनाने की सलाह होगी।

उन्होंने आगे कहा कि यूएस फेड और आरबीआई के जून में आने वाले फैसले शॉर्ट टर्म में बाजार की दिशा निर्धारित करने में अहम भूमिका निभाएंगे । निफ्टी के लिए 16000 पर सपोर्ट नजर आ रहा है जबकि 16400 पर रजिस्टेंस नजर आ रहा है। वहीं बैंक निफ्टी के लिए 34500 पर सपोर्ट और 35500 पर रजिस्टेंस नजर आ रहा है ।

Kotak Securities के श्रीकांत चौहान का कहना है कि आखिरी घंटे में आज बाजार में अच्छी शॉर्ट कवरिंग देखने को मिली जिसके चलते सेंसेक्स-निफ्टी आज 3 दिनों की लगातार गिरावट से उबरते हुए हरे निशान में बंद होने में कामयाब रहे हैं। यूएस FOMC का मिनट आ गया है। बाजार अब दरों में संभावित बढ़ोतरी के लिए तैयार दिख रहा है। जिसकी वजह से आज हमें एफएंडओ एक्सपायरी के दिन मजबूत खरीदारी देखने को मिली। हालांकि हमें महंगाई की ऊंची दर, एफआईआई की लगातार हो रही बिकवाली, यूएस यूक्रेन संघर्ष की वजह से बीच-बीच में बिकवाली के दौरे पड़ते नजर आएंगे। इन झटकों के बीच हमें राहत की रैलियां भी दिखाई देंगी।

उन्होंने आगे कहा कि डेली चार्ट पर निफ्टी ने एक लॉन्ग लेग हैमर फॉर्मेशन बनाया है जो वर्तमान लेवल से बाजार में और तेजी आने का संकेत है। ट्रेन्ड फॉलो करने वाले ट्रेडरों के लिए 16050-16000 के स्तर पर अच्छा सपोर्ट नजर आ रहा है। अगर निफ्टी इसके ऊपर टिकने में कामयाब रहता है तो इसमें हमें 16300-16375 का स्तर देखने को मिल सकता है। नीचे की तरफ अगर निफ्टी 16000 का स्तर तोड़ता है तो इसमें और गिरावट आ सकती है और यह हमें 15900-15850 की तरफ जाता नजर आ सकता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ