Ticker

99/recent/ticker-posts

कनाडा में बैठे गैंगेस्टर गोल्डी बरार ने ली मूसेवाला के मर्डर की जिम्मेदारी, पढ़ें हत्या के पीछे का मकसद

 

कनाडा में बैठे गैंगेस्टर गोल्डी बरार ने ली मूसेवाला के मर्डर की जिम्मेदारी, पढ़ें हत्या के पीछे का मकसद

नई दिल्ली, 29 मई: पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला के मर्डर केस में कनाडा बेस्ड गैंगस्टर गोल्डी बरार ने मूसेवाला की मौत की जिम्मेदारी ली है। गैंगस्टर गोल्डी बरार ने इसे लेकर अपने फेसबुक पर एक पोस्ट लिखी है। जिसमें उन्हे इस हत्या को अपने भाई की हत्या का बदला बताया है। गोल्डी गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के गैंग का सदस्य बताया जा रहा है। सूत्रों की मानें तो सिद्धू मूसेवाला पंजाब के टॉप मोस्ट गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और उसके गैंग के निशाने पर था।

फेसबुक पर पोस्ट लिख ली जिम्मेदारी

लॉरेंस बिश्नोई ने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि 'राम राम भाई सबको...आज जो सिद्धू मूसेवाला का कत्ल हुआ है, उसकी जिम्मेदारी मैं और मेरा भाई गोल्डी बरार लेता है। आज लोग हमें जो भी कहें लेकिन इसने हमारे भाई विक्की मिड्डूखेड़ा की हत्या में मदद की थी। आज हमने अपने भाई का बदला ले लिया है। बताया जा रहा है कि, बिश्नोई गैंग के विरोधी कैंप को सिद्धू मोसेवाला सपोर्ट कर रहे थे। जिसे लेकर वे लॉरेंस के निशाने पर थे।



हत्या में एके 94 का हुआ इस्तेमाल

पुलिस का दावा है कि आठ हमलावरों ने मूसेवाला पर हमला किया था। घटनास्थल से तीन एके-94 राइफल की गोलियां मिली हैं। पंजाब में एके-94 का प्रयोग दुर्लभ है। इस बीच, पुलिस ने बठिंडा में गोल्डी बरार और लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के साथ कथित संबंधों और मूसेवाला की हत्या में उनकी संलिप्तता के संदेह में कुछ लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस अधिकारियों ने दावा किया था कि हाल ही में पंजाबी फिल्म उद्योग के गायकों और अभिनेताओं को गैंगस्टरों द्वारा फिरौती के लिए कॉल करने के मामले सामने आए हैं।

पुलिस ने बताई हत्या की वजह

वहीं पंजाब के डीजीपी वी के भावरा ने कहा कि, मूसेवाला की हत्या गैंगवॉर का नतीजा है। उनके मैनेजर शगनप्रीत का नाम मोहाली में हुए एक मर्डर में आया था। उसी का बदला लेने के लिए लॉरेंस विश्नोई गैंग ने यह मर्डर करवाया है। इसकी जिम्मेदारी कनाडा में बैठे गोल्डी बराड़ ने ले ली है। मूसेवाला के पास पंजाब पुलिस के 4 कमांडोज हैं, घल्लूघारा दिवस की वजह से 2 कमांडो वापस लिए गए। 2 कमांडों उनके पास थे पर वो उन्हें साथ नहीं ले गए। मूसेवाला के पास प्राइवेट बुलेट प्रूफ गाड़ी भी थी, उसे भी वो साथ नहीं ले गए थे।

लॉरेंस विश्नोई पंजाब के फजिल्का का रहने वाला है

लॉरेंस विश्नोई पंजाब के फजिल्का का रहने वाला है जो कि राजस्थान की सीमा से लगता इलाका है। लॉरेंस का नेटवर्क पंजाब और राजस्थान के सीमावर्ती जिलों में फैला हुआ है और वो यहां के युवाओं को बरगलाता भी है। गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई का आतंक पंजाब, हरियाणा और राजस्थान तक है और अपने नेटवर्क के सहारे ये बड़े व्यापारियों से रंगदारी वसूलने का काम करता है। जोधपुर के बहुचर्चित वासुदेव इसरानी हत्याकांड में लॉरेंस मुख्य आरोपी है। राजस्थान के आसपास के प्रदेशों में वह रंगदारी का धंधा करता है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ