Ticker

99/recent/ticker-posts

Share Market: पिछले हफ्ते सेंसेक्स और निफ्टी पर छाया रहा मंदी का बादल, जानिए आज कैसा रहेगा बाजार

 

Share Market: पिछले हफ्ते सेंसेक्स और निफ्टी पर छाया रहा मंदी का बादल, जानिए आज कैसा रहेगा बाजार

Stock Market Today 16 May 2022: भारतीय शेयर बाजार (Indian stock market) में पिछले हफ्ते काफी मंदी का माहौल रहा। हफ्ते के अंतिम कारोबारी दिन सेंसेक्स (Sensex) और निफ्टी (Nifty) दोनों ही इंडेक्स गिरावट के साथ लाल निशान पर आकर रुके। शुक्रवार को स्टॉक मार्केट में कारोबारी दिन खत्म होते-होते बीएसई सेंसेक्स (BSE Sensex) 136 अंकों की गिरावट के साथ 52,793.62 के स्तर पर बंद हुआ तथा एनएसई निफ़्टी (NSE Nifty) 26 अंकों की गिरावट के साथ 15,782.15 के स्तर पर आ लुढ़का।

गुरुवार को मार्केट में दर्ज हुई बड़ी गिरावट,

गुरुवार को भारतीय शेयर बाजार में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (Bombay Stock Exchange) के सेंसेक्स में 1,158 अंकों की भारी गिरावट देखी गई। इस बड़े स्तर के गिरावट में बाद सेंसेक्स 52,930 के स्तर पर आ लुढ़का, वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (National Stock Exchange) के निफ्टी में गुरुवार को 359 अंक की गिरावट देखी गयी। 300 से अधिक अंकों की गिरावट के कारण निफ़्टी टूटकर 15,808 अंकों के निचले स्तर पर आ पहुँचा। बता दें पिछले हफ्ते बाजार में बिकवाली तथा ग्लोबल संकेतों के कारण ज्यादातर शेयरों का परफॉर्मेंस काफी निराशाजनक रहा। जिस वजह से बीएसई सेंसेक्स तथा एनएसई निफ़्टी दोनों ही इंडेक्स लगातार गिरावट के साथ लाल निशान पर बंद होते रहें।

एक हफ्ते में निवेशकों के 8 लाख करोड़ रुपये डूबे,

इस महीने भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा ब्याज दरों की घोषणा के बाद से ही शेयर मार्केट में काफी अस्थिरता का माहौल देंखने को मिला। इसके अलावा बाजार में लंबे वक्त से व्याप्त बिकवाली तथा ग्लोबल शेयर मार्केट से मिले नकारात्मक संकेतों के कारण भी पिछले हफ्ते बाजार पर मंदी का बादल छाया रहा, वहीं लंबे वक्त से गिरावट के कारण पिछले हफ्ते निवेशकों के करीब 8 लाख करोड़ रुपए डूब गए। अकेले गुरुवार को निफ्टी में 300 अंकों से अधिक की तथा सेंसेक्स में 1000 अंको से अधिक की गिरावट दर्ज हुई जिसके कारण एक दिन में ही इन्वेस्टर्स के 5 लाख करोड़ रुपए डूब गए। बीएसई लिस्टेड कंपनियों के मार्केट कैप में अकेले गुरुवार को ही 4 लाख करोड़ से अधिक की गिरावट दर्ज की गई।

आज कैसा रह सकता है माहौल,

स्टॉक मार्केट के एक्सपर्ट्स के मुताबिक आने वाले कुछ दिनों में एशियाई बाजारों में तेजी रहने के बावजूद भी भारतीय शेयर बाजार में गिरावट देखने को मिलेगी। बीते कुछ दिनों में महंगाई बढ़ने के कारण तथा हाल ही में रिजर्व बैंक द्वारा ब्याज दरों में बदलाव के कारण आने वाले कुछ दिनों तक भारतीय स्टॉक मार्केट में डर का माहौल हावी रह सकता है। इस हालात में बाजार में बिकवाली और बढ़ने का अनुमान है। एक्सपर्ट के मुताबिक ग्लोबल बाजारों से लगातार मिल रही नकारात्मक संकेतों तथा मार्केट में बिकवाली बढ़ने के कारण आने वाले कुछ दिनों में शेयर बाजार में 10% तक की गिरावट दर्ज हो सकती है।

पिछले हफ्ते इन शेयर्स को हुआ भारी नुकसान,

भारतीय शेयर बाजार में शुक्रवार को ग्लोबल संकेतों के कारण के शेयर्स को भारी नुकसान उठाना पड़ा, शुक्रवार को कारोबारी दिन खत्म होते-होते अडानी ग्रीन एनर्जी, इंडस टॉवर्स, वेदांता, जेएसडब्ल्यू स्टील, एसबीआई, अंबुजा सीमेंट्स एनटीपीसी, एसबीआई कार्ड्स, आईसीआईसीआई बैंक, भारती एयरटेल, एक्सिस बैंक, मारुति सुजुकी, इंफोएज, ओएनजीसी, टाटा स्टील, गेल इंडिया, जिंदल स्टील एंड पावर, एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस, बजाज फाइनेंस, सेल, पीआई इंडस्ट्रीज, बैंक ऑफ़ बड़ौदा, एनडीएमसी, विप्रो, अडानी पोर्ट्स, डीएलएफ, अपोलो हॉस्पिटल, एचडीएफसी बैंक, टेक महिंद्रा, एचसीएल टेक्नोलॉजी, टाटा कंज्यूमर, पिरामल इंटरप्राइजेज, और श्री सीमेंट (Adani Green Energy, Indus Towers, Vedanta, JSW Steel, SBI, Ambuja Cements NTPC, SBI Cards, ICICI Bank, Bharti Airtel, Axis Bank, Maruti Suzuki, Infoedge, ONGC, Tata Steel, GAIL India, Jindal Steel & Power, SBI Life Insurance, Bajaj Finance, SAIL, PI Industries, Bank of Baroda, NDMC, Wipro, Adani Ports, DLF, Apollo Hospitals, HDFC Bank, Tech Mahindra, HCL Technology, Tata Consumer, Piramal Enterprises, and Shree Cement) जैसे शेयर्स में बाहरी गिरावट रही।

मंदी के बावजूद पिछले हफ्ते इन शेयर्स में रही तेज़ी,

शुक्रवार को भारतीय शेयर बाजार में जहां एक ओर भारी गिरावट के कारण कई शेयर को भारी नुकसान हुआ, वहीं दूसरी ओर मंदी के माहौल में भी कई शेयर्स ने मुनाफा कमाया। मुनाफा कमाने वाले शेयरों में टाटा मोटर्स, इंद्रप्रस्थ गैस, ग्लैंड फार्मा, बंधन बैंक, सन फार्मा, गोदरेज कंज्यूमर, टोरेंट फार्मा, महिंद्रा एंड महिंद्रा, हिंदुस्तान युनिलीवर, हैवेल्स इंडिया, आईटीसी, टाइटन, हीरो मोटोकॉर्प, बजाज होल्डिंग्स, बजाज ऑटो, नेस्ले इंडिया, कोटक महिंद्रा बैंक, एशियन पेंट्स,।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ