Ticker

99/recent/ticker-posts

Prudent Advisory के 539 करोड़ के IPO का प्राइस बैंड तय, 10 मई को खुलेगा इश्यू, चेक करें डिटेल

 

Prudent Advisory के 539 करोड़ के IPO का प्राइस बैंड तय, 10 मई को खुलेगा इश्यू, चेक करें डिटेल

Prudent Advisory Services IPO: कंपनी ने 539 करोड़ रुपये के इस आईपीओ के लिए 595-630 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया है.

प्रूडेंट कॉरपोरेट एडवाइजरी सर्विसेज लिमिटेड (Prudent Corporate Advisory Services) ने अपने आईपीओ का प्राइस बैंड तय कर दिया है.

Prudent Advisory Services IPO: रिटेल वेल्थ मैनेजमेंट फर्म प्रूडेंट कॉरपोरेट एडवाइजरी सर्विसेज लिमिटेड (Prudent Corporate Advisory Services) ने अपने आईपीओ का प्राइस बैंड तय कर दिया है. कंपनी ने 539 करोड़ रुपये के इस आईपीओ के लिए 595-630 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया है. यह इश्यू 10 मई को सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगा और 12 मई को बंद हो जाएगा. वहीं, एंकर निवेशकों के लिए यह 9 मई को खुलने जा रहा है.

यह आईपीओ पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल (OFS) होगा यानी इसके तहत नए शेयर जारी नहीं किए जाएंगे, बल्कि कंपनी के मौजूदा प्रमोटर शेयर-होल्डर ही अपनी इक्विटी बेचेंगे. इस इश्यू के तहत शेयरधारकों द्वारा 85,49,340 इक्विटी शेयरों की बिक्री की जाएगी.

आईपीओ से जुड़ी डिटेल

ओएफएस के हिस्से के रूप में शेयरहोल्डर – TA एसोसिएट्स की एक एंटिटी Wagner लिमिटेड 82,81,340 इक्विटी शेयरों की बिक्री करेगी. इसके अलावा, प्रूडेंट के होल-टाइम डायरेक्टर और चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर शिरीष पटेल 2,68,000 इक्विटी शेयर बेचेंगे. यह आईपीओ पूरी तरह से ओएफएस है, इसलिए कंपनी को इस इश्यू से कोई आय प्राप्त नहीं होगी. फिलहाल Wagner की प्रूडेंट में 39.91 फीसदी हिस्सेदारी है, जबकि पटेल की 3.15 फीसदी हिस्सेदारी है.

इश्यू साइज का आधा हिस्सा क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (क्यूआईबी) के लिए, 15 फीसदी नॉन-इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स के लिए और 35 फीसदी रिटेल निवेशकों के लिए आरक्षित किया गया है. इसके अलावा 6.5 करोड़ रुपये तक के इक्विटी शेयर कर्मचारियों के लिए रिज़र्व किए गए हैं. निवेशक कम से कम 23 शेयरों और इसके मल्टीपल में बोली लगा सकते हैं.

कंपनी के बारे में

कंपनी को अमेरिका स्थित निजी इक्विटी निवेशक टीए एसोसिएट्स का समर्थन प्राप्त है. प्रूडेंट भारत में लीडिंग इंडिपेंडेट रिटेल वेल्थ मैनेजमेंट सर्विसेज ग्रुप (बैंकों को छोड़कर) में से एक है. इसकी गिनती टॉप म्यूचुअल फंड डिस्ट्रिब्यूटर्स में होती है. म्यूचुअल फंड के अलावा यह कंपनी इंश्योरेंस, पोर्टफोलियो मैनेजमेंट स्कीम्स, अल्टरनेटिव इन्वेस्टमेंट फंड्स, बॉन्ड, अन-लिस्टेड इक्विटी, स्टॉक ब्रोकिंग सॉल्यूशन, लोन अगेंस्ट सिक्योरिटी, NPS जैसे अन्य फाइनेंशियल प्रोडक्ट्स भी डिस्ट्रिब्यूट करती है. ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों चैनलों में इसकी मौजूदगी है. आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज, एक्सिस कैपिटल और इक्विरस कैपिटल इश्यू के बुक रनिंग लीड मैनेजर हैं.

31 दिसंबर 2021 तक म्यूचुअल फंड डिस्ट्रीब्यूशन बिजनेस से कंपनी की एसेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) 48,411.5 करोड़ रुपये थी, जिसमें उनके कुल AUM का 92.14 प्रतिशत इक्विटी ओरिएंटेड था. कंपनी अपने बिजनेस-टू-बिजनेस-टू-कंज्यूमर (B2B2C) प्लेटफॉर्म पर 23,262 म्यूचुअल फंड डिस्ट्रिब्यूटर्स के माध्यम से 1,351,274 यूनिक रिटेल इन्वेस्टर्स को वेल्थ मैनेजमेंट सर्विसेज प्रदान करती है और 20 राज्यों में 110 लोकेशन पर फैली हुई है.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ