Ticker

99/recent/ticker-posts

Paytm के शेयरों में FPI की बिकवाली के चलते शेयर 62% टूटा, स्टॉक ने लगाया ऑल टाइम लो

 

Paytm के शेयरों में FPI की बिकवाली के चलते शेयर 62% टूटा, स्टॉक ने लगाया ऑल टाइम लो

इस साल अब तक विदेशी संस्थागत निवेशकों की भारी बिकवाली के चलते पेटीएम के शेयरों का मार्केट वैल्यू 61 प्रतिशत तक गिर चुका है

डिजिटल पेमेंट्स सेगमेंट की दिग्गज कंपनी पेटीएम (Paytm) की पैरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस (One97 Communications) के शेयरों में आज तगड़ी गिरावट देखने को मिली। कंपनी का शेयर आज यानी गुरुवार 12 मई 2022 को इंट्रा-डे ट्रेड में बीएसई पर लगभग 3 प्रतिशत तक गिर गया और इस गिरावट के साथ इसने 517.25 रुपये का नया निचला स्तर छुआ। पिछले 6 कारोबारी दिनों से स्टॉक में गिरावट देखने को मिल रही है। इस अवधि के दौरान शेयर में 14 प्रतिशत की गिरावट नजर आई है।

एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स में 9 प्रतिशत की गिरावट के मुकाबले यह स्टॉक पिछले एक महीने में 26 प्रतिशत लुढ़क चुका है। इसके अलावा हाल ही में इसमें आये करेक्शन की वजह से शेयर 2,150 रुपये प्रति शेयर के अपने इश्यू प्राइस से 76 प्रतिशत तक गिर गया है।

इसने अपनी लिस्टिंग के दिन यानी 18 नवंबर, 2021 को 1,961.05 रुपये का रिकॉर्ड उच्च स्तर को हिट किया था। लेकिन लिस्टिंग के बाद ये अपने इश्यू प्राइस को छूने में असफल रहा।

कैलेंडर वर्ष 2022 में अब तक विदेशी संस्थागत निवेशकों (foreign institutional investors) की भारी बिकवाली के चलते पेटीएम के शेयरों का मार्केट वैल्यू 61 प्रतिशत तक गिर चुका है। इसकी तुलना में इसी अवधि के दौरान एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स 10 प्रतिशत गिरा है।

मार्च 2022 की तिमाही में पेटीएम में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (Foreign portfolio investors(FPI) की हिस्सेदारी 4.94 प्रतिशत से आधा प्रतिशत घटकर 4.42 प्रतिशत हो गई है।

वहीं दिसंबर 2021 की तिमाही के अंत में FPI की कंपनी में 9.36 प्रतिशत हिस्सेदारी थी ऐसा शेयरहोल्डिंग पैटर्न के आंकड़ों से पता चलता है। बिजनेस स्टैंडर्ड की खबर के मुताबिक लिस्टिंग के समय पेटीएम में FPI की 10.37 प्रतिशत हिस्सेदारी रही थी।

हालांकि कंपनी में व्यक्तिगत शेयरहोल्डिंग मार्च तिमाही में 4.23 प्रतिशत बढ़कर 16.98 प्रतिशत हो गई, जो पिछली तिमाही में 12.75 प्रतिशत थी।

पेटीएम के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी विजय शेखर शर्मा (Vijay Shekhar Sharma, Founder and CEO, Paytm) ने 6 अप्रैल, 2022 को कहा था कि वैश्विक स्तर पर उच्च वृद्धि वाले शेयरों के लिए वोलाटाइल मार्केट कंडीशन में हमारे शेयर आईपीओ प्राइस से काफी नीचे हैं।

उन्होंने कहा था कि निश्चिंत रहें, पूरी पेटीएम टीम इसे एक बड़ी लाभदायक कंपनी बनाने और लंबी अवधि के शेयरधारकों को कमाई करवाने के लिए प्रतिबद्ध है। इतना ही नहीं मेरा स्टॉक ग्रांट्स मुझे तभी दिया जाएगा जब हमारा मार्केट कैप निरंतर आधार पर आईपीओ के लेवल को पार कर जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ