Ticker

99/recent/ticker-posts

Multi Cap Fund 5 साल की एसआईपी में इस स्कीम ने निवेशकों को दिया 60 फीसदी से अधिक रिटर्न

 

Multi Cap Fund 5 साल की एसआईपी में इस स्कीम ने निवेशकों को दिया 60 फीसदी से अधिक रिटर्न

महिंद्रा मैनुलाइफ ने निवेशकों को बेहतर रिटर्न दिया है.

नई दिल्ली. म्यूचुअल फंड की मल्टी कैप स्कीम (Multi cap Scheme) का पोर्टफोलियो डायवर्सिफाइड होता है. इसके फंड मैनेजर लार्ज कैप, मिड कैप के साथ स्मॉल कैप शेयरों में भी निवेश करते हैं. निवेशकों को अच्छा रिटर्न हासिल हो, इसके लिए फंड मैनेजर मार्केट कैपिटलाइजेशन को देखते हैं. मल्टी कैप म्यूचुअल फंड को लार्ज कैप, मिड कैप और स्मॉल कैप शेयरों में कम से कम 25 फीसदी निवेश करने की आवश्यकता होती है. आइए, आपको 5 साल की एसआईपी में बेहतर प्रदर्शन करने वाले एक म्यूचुअल फंड की मल्टीकैप स्कीम के बारे में बताते हैं.

आपको बता दें कि इक्विटी म्यूचुअल फंड में मल्टी कैप कैटिगरी सबसे बेस्ट प्रदर्शन करने वाली कैटिगरी रही है. इस स्कीम ने कम और लंबी अवधि दोनों में निवेशकों को अच्छा रिटर्न दिया है. यहां जिस स्कीम की जानकारी दी जा रही है, उसका नाम महिंद्रा मैनुलाइफ बढ़त योजना (Mahindra Manulife Multi-Cap Badhat Yojana) डायरेक्ट प्लान ग्रोथ है. गुड रिटर्न्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इस स्कीम को 11 मई 2017 में लॉन्च किया गया था. इसका मतलब यह हुआ कि यह फंड 5 साल पुराना है.

छोटे आकार का फंड

महिंद्रा मैनुलाइफ बढ़त योजना मल्टी कैप कैटेगरी में छोटे आकार का फंड है. इस फंड का मौजूदा एसेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) 1151.41 करोड़ रुपये है. 25 मई, 2022 को इसका नेट एसेट वैल्यू (NAV) 20.488 रुपये रहा. जहां तक एक्सपेंस रेश्यो यानी म्यूचुअल फंड के मैनेजमेंट पर होने वाले खर्च के अनुपात का सवाल है, तो यह 0.5 फीसदी है. महिंद्रा मैनुलाइफ बढ़त स्कीम पर औसत व्यय, इसकी श्रेणी के अन्य फंड के औसत एक्सपेंस रेश्यो से कम है.

5 साल में इतना रिटर्न

इस मल्टीकैप फंड ने लॉन्चिंग के बाद से एकमुश्त यानी लम्पसम निवेश पर औसत 15.29 फीसदी वार्षिक रिटर्न दिया है. 5 साल में इसने कुल 103.93 फीसदी रिटर्न दिया है. वहीं, यदि आप इसमें 5 वर्षों से एसआईपी कर रहे होते, तो आपको 62.21 फीसदी रिटर्न मिलते.

मिनिमम निवेश 1,000 रुपये

यह निवेश के लिए अत्यधिक रिस्की रेटेड फंड है. क्रिसिल ने इसे 4-स्टार की रेटिंग दी है. इस फंड में न्यूनतम निवेश 1,000 रुपये से शुरू होता है, जबकि एसआईपी के लिए न्यूनतम आवश्यक राशि 500 ​​रुपये है. इस फंड में कोई लॉक-इन अवधि नहीं है. हालांकि, यह फंड निवेश के 365 दिनों के भीतर रिडेम्पशन के लिए 1 फीसदी चार्ज करता है.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ