Ticker

99/recent/ticker-posts

MSME ग्राहकों के लिए ICICI Bank की नई सुविधा, बिना दस्तावेज के 25 लाख का ले सकते हैं लोन

 

MSME ग्राहकों के लिए ICICI Bank की नई सुविधा, बिना दस्तावेज के 25 लाख का ले सकते हैं लोन

प्राइवेट बैंक आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) ने माइक्रो, स्मॉल और मीडियम इंटरप्राइजेज (MSME) सेक्टर के ग्राहकों के लिए नई डिजिटल सुविधा शुरू की है. इस सुविधा का लाभ आईसीआईसीआई बैंक के अलावा अन्य बैंकों के ग्राहक भी उठा सकते हैं. बैंक ने डिजिटल प्लेटफॉर्म शुरू किया है जहां एक साथ कई सर्विस से मदद मिलेगी. चटपट लोन लेना हो या पूरी तरह से डिजिटल और इंस्टेंट करंट अकाउंट खोलना हो, ये हर तरह के काम आईसीआईसीआई बैंक के डिजिटल प्लेटफॉर्म पर आसानी से होंगे. वीडियो केवाईसी (Video KYC) की मदद से करंट अकाउंट खुलेगा।

ऊपर बताई गई ये सभी सुविधाएं आईसीआईसीआई बैंक के इंस्टाबिज ऐप पर मिल रही हैं. बैंक का कहना है कि एमएसएमई सेगमेंट में वही क्षमता है जो बड़े कॉरपोरेट में है. लेकिन एमएसएमई के पास संसाधनों की कमी है. इससे बिजनेस पर असर पड़ता है. इस कमी को दूर करने के लिए ICICI Bank ने पूरी तरह से डिजिटल सॉल्यूशन लॉन्च किया है जहां एक साथ कई सर्विस का लाभ मिल सकेगा. इस सर्विस की मदद से छोटे बिजनेस को वैसे संसाधन मिल सकेंगे जो बड़े कॉरपोरेट को मिलते रहते हैं।

बिजनेस लोन का कारोबार बढ़ा,

आईसीआईसीआई बैंक की बिजनेस बैंकिंग में तेज ग्रोथ देखी जा रही है और एक साल के अंदर इसमें 43 परसेंट की वृद्धि देखी गई है. एक साल में बैंक का बिजनेस 53,437 करोड़ रुपये तक बढ़ गया है. एसएमई सेक्टर में भी 33.6 परसेंट की बढ़ोतरी है और 31 मार्च 2022 तक यह 40,450 करोड़ रुपये को छू गया है. आईसीआईसीआई बैंक के कुल लोन में 11 परसेंट हिस्सेदारी बिजनेस बैंकिंग और एमएसई लोन की है. इंस्टाबिज ऐप पर 10 लाख एमएसएमई ग्राहक हैं जिनके लिए नई सुविधाएं शुरू की गई हैं।

दूसरे बैंकों के ग्राहक भी ले सकेंगे फायदा,

इंस्टाबिज ऐप के नए वर्जन में आईसीआईसीआई बैंक से इतर एमएसएमई ग्राहकों के लिए एक गेस्ट टैब लाया गया है. इस टैब के जरिये ग्राहक लॉगिन होंगे और अलग-अलग सुविधाओं का लाभ लेंगे. यहां ग्राहकों को बिना किसी कागजी कार्यवाही के 25 लाख रुपये का ओवरड्राफ्ट तुरंत मिलेगा. आईसीआईसीआई बैंक के ग्राहक इंस्टाबिज ऐप में तुरंत ओवरड्राफ्ट ले सकेंगे, जबकि दूसरे बैंक के ग्राहकों को पहले करंट अकाउंट खोलना होगा. इसके लिए ग्राहक को वीडियो केवाईसी करानी होगी. यह काम कुछ देर में पूरा हो जाता है. इसके बाद आसानी से लोन आदि की सेवाएं ली जा सकती हैं।

वीडियो केवाईसी की सुविधा इसलिए रखी गई है ताकि किसी तरह का कागजी झंझट न हो. केवाईसी के लिए जो भी कागजात या दस्तावेज दिखाने होंगे, उसे वीडियो केवाईसी के दौरान दिखाया जा सकेगा. बैंक के अधिकारी हाथोंहाथ उसे वेरिफाई कर देंगे और केवाईसी को फाइनल कर दिया जाएगा. इसके बाद बिजनेस लोन लेने का रास्ता साफ हो जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ