Ticker

99/recent/ticker-posts

बाजार में जबरदस्त तेजी, मगर LIC ने आज बनाया नया Low, अब क्या करें निवेशक?

 

बाजार में जबरदस्त तेजी, मगर LIC ने आज बनाया नया Low, अब क्या करें निवेशक?

आज गुरुवार को एलआईसी के शेयर ने अपना नया लो (Low) बनाया.

नई दिल्‍ली. LIC के शेयर में निवेश करने वाले लोग खुद को जरूर ठगा हुए महसूस कर रहे होंगे. इसलिए, क्योंकि इसके शेयर दिन प्रतिदिन गिरते ही जा रहे हैं. आज गुरुवार को एलआईसी के शेयर ने अपना नया लो (Low) बनाया. अब तो कहा जाने लगा है कि यह शेयर पेटीएम की राह चल पड़ा है. खुलने के बाद से लगातार गिर ही रहा है. निवेशकों को ज्यादा पीड़ा इसलिए भी हो रही होगी कि शेयर बाजार में आज 12 बजे के बाद खूब तेजी देखी गई, लेकिन LICI (NSE में इसी नाम से लिस्टेड है) टस से मस नहीं हुआ.

गुरुवार को एलआईसी के शेयर 820.30 पर खुले और साढ़े 10 बजे 801 रुपये का निम्नतम स्तर छू लिया. इससे पहले 23 मई को इस स्टॉक में 803.65 रुपये का लोअर लेवल रिकॉर्ड किया गया था. आज का हाई 824.80 रुपये रहा, जोकि कल के हाई 841.45 रुपये से काफी नीचे है. हालांकि बंद होने तक शेयर कुछ ऊपर आया और 811.65 रुपये पर क्लोजिंग दी.

8 फीसदी गिरावट के साथ हुई थी लिस्टिंग

देश की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम 17 मई 2022 को भारतीय शेयर बाजारों में सूचीबद्ध हुई थी. NSE पर इसकी लिस्टिंग 8.11 फीसदी गिरावट यानी 77 रुपये के नुकसान पर हुई. NSE पर यह 872 रुपये पर खुला, जबकि BSE पर 867 रुपये के भाव पर लिस्‍ट हुआ. BSE पर खुलते ही करीब 9 फीसदी का नुकसान दिखा. लिस्टिंग के दिन 17 मई को NSE पर एलआईसी शेयर ने 875.25 रुपये पर क्‍लोजिंग दी थी.

अब क्या करें निवेशक

इन्वेस्टमेंट लिट्रेसी के CIO कुंज बंसल का कहना है कि जिन्हें यह शेयर IPO में मिला है, उन्हें पैनिक होकर लॉस बुक करके नहीं निकलना चाहिए. फंडामेंटल्स के हिसाब से शेयर अच्छा है और यह लगभग एक साल में अच्छा रिटर्न दे सकता है. इसके अलावा, जो लोग इसमें नई पॉजिशन बनाना चाहते हैं उन्हें थोड़ा इंतजार करना चाहिए.

लॉस बढ़ता गया, उत्साह घटता गया

LIC के आईपीओ को लेकर जिस जोशो-खरोश से सरकार और बैंक काम पर लगे हुए थे, उसे देखकर निवेशक भी फूले नहीं समा रहे थे. एलआईसी के पॉलिसीहोल्डर बोली लगाने वालों में सबसे आगे रहे थे. इस शेयर के लिए कंपनी के 949 रुपये का ऊपरी बैंड तय किया था. कंपनी ने 949 रुपये प्रति शेयर के भाव पर इनवेस्टर्स को शेयर अलॉट किए थे. पॉलिसीहोल्डर्स को प्रति शेयर 60 रुपये का डिस्काउंट मिला था, जबकि रिटेल इनवेस्टर्स और कर्मचारियों के प्रति शेयर 45-45 रुपये का डिस्काउंट मिला था.

डिस्काउंट के बाद पॉलिसीहोल्डर्स को एक शेयर की कीमत 889 रुपये और रिटेल निवेशकों और कर्मचारियों को डिस्काउंट के बाद यह शेयर 904 रुपये पड़ा था. अगर इसके आज के लो (Low) के हिसाब से गिनती करें तो अभी पॉलिसीहोल्डर्स ने प्रति शेयर 88 रुपये का लॉस हो रहा है. रिटेल इनवेस्टर्स और कर्मचारियों को प्रति शेयर 103 रुपये का लॉस हो रहा है.

निवेशकों को अब डिविडेंड के ऐलान का इंतजार

मीडिया रिपोर्ट्स में चर्चा है कि कंपनी अपने निवेशकों को खुश करने के लिए डिविडेंड की घोषणा कर सकती है. एलआईसी ने बीएसई (BSE) को बताया है कि वह 30 मई को पहली तिमाही परिणाम जारी करेगी. उसने कहा कि वह 30 मई को मार्च तिमाही के ऑडिटेड फाइनेंशियल रिजल्ट पर विचार करेगी और उसे मंजूरी देगी. इसके अलावा निवेशकों को अगर कोई डिविडेंड का भुगतान करना है, तो इसे भी 30 मई को मंजूरी दी जाएगी.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ