Ticker

99/recent/ticker-posts

कोटक महिंद्रा बैंक के डेबिट कार्ड ग्राहक के लिए कुछ समय बंद रहेंगी ये खास सेवाएं, पढ़ें पूरी जानकारी

 

कोटक महिंद्रा बैंक के डेबिट कार्ड ग्राहक के लिए कुछ समय बंद रहेंगी ये खास सेवाएं, पढ़ें पूरी जानकारी

अगर आप कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank) के डेबिट कार्ड धारक हैं तो आपके लिए जरूरी जानकारी. बैंक ने कहा है कि बैंक की डेबिट/Spendz कार्ड की सेवाएं 15 मई को कुछ समय के लिए प्रभावित रहेंगी और ग्राहक विशेष सेवाओं का इस दौरान फायदा नहीं उठा पाएंगे. बैंक ने जानकारी दी है कि मेंटीनेंस के कार्य की वजह से डेबिट कार्ड ( Debit card) से जुड़ी इन सेवाओं को बंद रखा जा रहा है. बैंकों के द्वारा समय समय पर मेंटीनेंस सेवाएं (maintenance activity) प्रक्रिया का आम हिस्सा है और इस दौरान बैंक कुछ सेवाओं को बंद रखते हैं, जिससे कार्य सही तरीके से पूरा किया जा सके. बैंक ने इसी महीने अपने नतीजे भी जारी किए हैं और उसका मुनाफा पिछले साल के मुकाबले 65 प्रतिशत बढ़ा है.

किन सेवाओं पर दिखेगा असर

बैंक ने आज अपने ग्राहकों को ईमेल के जरिए जानकारी दी है कि 15 मई को आधी रात के बाद से सुबह 2.30 बजे तक और उसके बाद 3.30 बजे से 6 बजे तक कोटक महिंद्रा बैंक डेबिट कार्ड/spendz कार्ड की कुछ सेवाएं काम नहीं करेंगी इसमें एटीएम, पीओएस, पेमेंट टोकनाइजेशन, कार्डलैस कैश विड्रॉल, पिन से जुड़ी सेवाएं, कॉर्ड को ब्लॉक या अनब्लॉक करना आदि शामिल हैं. सेवाओं पर ये असर बैंक के द्वारा अपने सिस्टम में मेंटीनेंस का कार्य किये जाने की वजह से है. बैंक के द्वारा भेजे गए एक ईमेल में कहा गया है कि बैंक के सिस्टम में दो चरण में मेंटीनेंस प्रक्रिया जारी रहेगी जो कि 15 मई को आधी रात से सुबह 2.30 तक और 3.30 से 6 बजे तक की जाएगी.

65 प्रतिशत बढ़ा मुनाफा

इस माह आए नतीजों के अनुसार कोटक महिन्द्रा बैंक का मार्च तिमाही के दौरान मुनाफा पिछले साल के मुकाबले 65 प्रतिशत की बढ़त के साथ 2,767 करोड़ रुपये पहुंच गया है. एक साल पहले ही बैंक को 1,682 करोड़ रुपये का फायदा हुआ था. पिछले साल के मुकाबले बैक की एसेट क्वालिटी तिमाही के दौरान बेहतर हुई है. वहीं पिछले साल के मुकाबले ही बैंक के नेट इंट्रेस्ट इनकम, नेट इंट्रेस्ट मार्जिन में सुधार देखने को मिला है. नतीजों के साथ बैंक ने अपने निवेशकों को 1.1 रुपये के डिविडेंड का भी ऐलान किया है. बैंक के मुताबिक मार्च तिमाही में बैंक की नेट इंट्रेस्ट इनकम पिछले साल के मुकाबले 18 प्रतिशत बढ़ कर 4,521 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है. पिछले साल की इसी तिमाही में बैंक की एनआईआई 3,843 करोड़ रुपये थी. नेट इंट्रेस्ट इनकम बैंक के द्वारा बांटे गए कर्ज पर कमाई गई ब्याज आय और जमा पर चुकाए गए ब्याज का अंतर होती है. वहीं नेट इंट्रेस्ट मार्जिन में बढ़त देखने को मिली है, पिछले साल के मुकाबले एनआईएम 4.39 प्रतिशत से बढ़कर 4.78 प्रतिशत पर पहुंच गए. इसके साथ ही बैंक की एसेट क्वालिटी में भी सुधार दर्ज हुआ है. मार्च तिमाही में ग्रॉस एनपीए 2.34 प्रतिशत पर आ गए. इससे पहले दिसंबर तिमाही में ग्रॉस एनपीए 2.71 प्रतिशत पर और वहीं इससे पिछले साल की मार्च तिमाही में ग्रॉस एनपीए 2.71 प्रतिशत पर थे, नेट एनपीए भी 1.21 प्रतिशत से सुधर कर 0.64 प्रतिशत पर आ गए हैं

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ