Ticker

99/recent/ticker-posts

IRCTC Share 52 सप्ताह के हाई से 50 फीसदी लुढ़के, अब निवेशक खरीदें, बेचें या होल्ड करें?

 

IRCTC Share 52 सप्ताह के हाई से 50 फीसदी लुढ़के, अब निवेशक खरीदें, बेचें या होल्ड करें?

नई दिल्ली . इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) के शेयर अक्टूबर 2021 में अपने 52 सप्ताह के उच्चतम स्तर पर चढ़ने के बाद लगातार लुढ़क रहे हैं. उस समय बीएसई पर अपने 52 सप्ताह के उच्च स्तर 1,278.60 रुपये से गिरकर आज करीब 1.30 बजे 657.40 रुपये पर पहुंच गया है. इसका मतलब हुआ कि यह करीब 50 फीसदी गिर चुका है. वैसे, बता दें कि इसका 52 सप्ताह का सबसे निचला स्तर 344.29 रुपये रहा है।

बाजार के जानकारों के मुताबिक, कोरोना महामारी की अगली लहर के डर से आईआरसीटीसी के शेयर दबाव में है, क्योंकि चीन ने नए मामलों में बढ़ोतरी के बाद लॉकडाउन लगाया है. साथ ही, एनर्जी की बढ़ती कीमतों ने भी आईआरसीटीसी को कमजोर किया है. इसका कारण यह है कि आगामी तिमाही में इसका मार्जिन प्रभावित हो सकता है।

जीसीएल सिक्योरिटीज के वाइस चेयरमैन रवि सिंघल ने आईआरसीटीसी के शेयर की कीमत गिरने के कारणों के बारे में लाइवमिंट को बताया, “आईआरसीटीसी के शेयर कोरोना महामारी की अगली लहर के डर से गिर रहे हैं. निवेशक आगामी तिमाहियों में आईआरसीटीसी के कारोबार को लेकर नकारात्मक हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि चीन में कोरोना के बढ़ते मामले भारत के लिए भी खतरे का संकेत हैं. साथ ही, एनर्जी की बढ़ती कीमतों ने ट्रेन परिचालन लागत को भी बढ़ाया है. ट्रेन संचालन में आईआरसीटीसी को यह नुकसान उठाना पड़ सकता है।

नई खरीदारी से बचने की सलाह,

जीसीएल सिक्योरिटीज के वाइस चेयरमैन रवि सिंघल मौजूदा स्तर पर आईआरसीटीसी शेयर में ताजा खरीदारी से बचने की सलाह देते हैं. उनके अनुसार, निकट अवधि में आईआरसीटीसी शेयर में गिरावट जारी रह सकती है. जिनके पोटफोलियो में यह शेयर है, वे 588 रुपये के स्टॉप लॉस के साथ इसे रख सकते हैं. जो लोग इस शेयर को खरीदना चाहते हैं, वे 650 रुपये के स्तर से इसे अपने पोर्टफोलियो में शामिल कर सकते हैं।

(Disclaimer: यहां बताए गए स्‍टॉक्‍स ब्रोकरेज हाउस की सलाह पर आधारित है. यदि आप इसमें पैसा लगाना चाहते हैं, तो पहले सर्टिफाइड इनवेस्‍टमेंट एडवायजर से परामर्श कर लें. आपके किसी भी तरह के लाभ या हानि के लिए वेबसाइट जिम्मेदार नहीं होगी।)

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ