Ticker

99/recent/ticker-posts

इस पैनी स्टॉक ने 2 महीने में दिया 395% रिटर्न, लगातार 7 कारोबारी हफ्तों में लगा अपर सर्किट

 

इस पैनी स्टॉक ने 2 महीने में दिया 395% रिटर्न, लगातार 7 कारोबारी हफ्तों में लगा अपर सर्किट

इस शेयर पिछले एक साल से ट्रेडिंग बंद थी. हालांकि, पिछले महीने दोबारा ट्रेडिंग शुरू होने के बाद से ये शेयर रॉकेट की तरह भागा है. इसने निवेशकों के 1 लाख रुपये को 2 महीने में करीब 5 लाख रुपये में बदल दिया है.

नई दिल्ली. बिकवाली के दबाव से जूझ रहे भारतीय शेयर बाजार में कुछ शेयरों ने कमाल का प्रदर्शन कर अपने निवेशकों को मालामाल कर दिया है. ऐसा ही एक स्टॉक है कोहिनूर फूड्स. यह एक पैनी स्टॉक है और इसने पिछले 2 महीने में अपने निवेशकों को 395 फीसदी का रिटर्न दिया है. इस शेयर में लगातार 35 कारोबारी सत्रों यानी 7 हफ्तों से अपर सर्किट लग रहा है.

यह शेयर एनएसई पर 2 महीने में 7.75 रुपये से बढ़कर 38.40 रुपये प्रति शेयर पर पहुंच गया है. वहीं, पिछले एक महीने में यह शेयर 14.85 रुपये से बढ़कर 38.40 रुपये पर पहुंच गया है. इस दौरान यह शेयर 160 फीसदी ऊपर चढ़ा है.

1 साल से नहीं हो रही थी ट्रेडिंगपिछले करीब 1 साल से इस शेयर में ट्रेडिंग नहीं हो रही थी लेकिन ट्रेडिंग चालू होते ही ये शेयर रॉकेट की रफ्तार से उड़ रहा है. कोहिनूर फूड्स का स्टॉक जनवरी 2018 में 88.25 रुपये के सर्वोच्च स्तर पर था. उस समय इसे एक मजबूत पैनी स्टॉक के तौर पर देखा जाता है. लेकिन उसके बाद ये शेयर लगातार टूटा और महामारी के दौर के बीच ये 7.40 रुपये पर पहुंच गया.

1 लाख बना 4.95 लाखअगर किसी निवेशक ने इस शेयर में 2 महीने पहले 1 लाख रुपये का निवेश किया होता तो उसका निवेश बढ़कर 4.95 लाख रुपये हो गया होता. वहीं, अगर किसी ने 1 महीने पहले भी इतना ही निवेश किया होता तो उसकी इन्वेस्टेड रकम बढ़कर 2.60 लाख रुपये हो गई होती. इसका वर्तमान मार्केट कैप 140 करोड़ रुपये के आसपास है.  इस कंपनी के शेयर फिलहाल अपने 52 हफ्तों के सर्वोच्च स्तर पर है. इसका 52 हफ्तो का लो 7.75 रुपये है.

कंपनी का कारोबारकोहिनूर फूड्स लिमिटेड फूड प्रोडक्ट्स के निर्माण, व्यापार और मार्केटिंग में लगी एक भारतीय कंपनी है. इसके फूड प्रोडक्ट्स में बासमती राइस, आटा, रेडी टू ईट करी, मसाले व फ्रोजन फूड समेत अन्य चीजें शामिल हैं. कंपनी कोहिनूर ब्रैंड के नाम तले अपने प्रोडक्ट्स बेचती है. कंपनी का यूएस, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और यूनाइटेड किंगडम में भी व्यापार है. इसके साथ ही खाड़ी प्रदेशों और दक्षिण एशियाई देशों में भी कंपनी अपने प्रोडक्ट्स का निर्यात करती है.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ