Ticker

99/recent/ticker-posts

Godfrey Phillips और Hindustan Copper ने जारी किये नतीजे, जानिये कैसा रहा Q4 का प्रदर्शन

 

Godfrey Phillips और Hindustan Copper ने जारी किये नतीजे, जानिये कैसा रहा Q4 का प्रदर्शन

शनिवार को सिगरेट निर्माता कंपनी गॉडफ्रे फिलिप्स और सरकारी कंपनी हिंदुस्तान कॉपर ने अपने नतीजे ( Quarterly Results) जारी कर दिए हैं. दोनो कंपनियों ने तिमाही के दौरान मुनाफा (Q4 net profit) दर्ज किया है. हालांकि हिंदुस्तान कॉपर पिछले साल की तिमाही में घाटे के बाद मुनाफे में लौटी है. कंपनी ने पिछले साल की इसी तिमाही में 37 करोड़ के घाटे के मुकाबले 89 करोड़ रुपये का मुनाफा दिखाया है. साथ ही कंपनी ने अपने निवेशकों के लिए डिविडेंड (Dividend) का भी ऐलान किया है. दूसरी तरफ के गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया लिमिटेड के मुनाफे में 9 प्रतिशत की बढ़त रही है.

कैसे रहे गॉडफ्रे फिलिप्स के नतीजे

सिगरेट निर्माता गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया लिमिटेड ने शनिवार को 2021-22 की जनवरी-मार्च तिमाही में अपने मुनाफे में 9.07 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है. तिमाही के दौरान कंपनी का मुनाफा 95.24 करोड़ रुपये बढ़कर 103.88 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. तिमाही के दौरान कंपनी की कुल आय 2.84 प्रतिशत बढ़कर 877.77 करोड़ रुपये हो गई, जो पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 853.48 करोड़ रुपये थी. वहीं कंपनी के कुळ खर्च 737.72 करोड़ रुपये पर पहुंच गए जो पिछले साल की इसी तिमाही 727.61 करोड़ रुपये के स्तर पर थे. सिगरेट, तंबाकू और संबंधित उत्पादों से इसका राजस्व 2.61 प्रतिशत बढ़कर 769.10 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले 749.51 करोड़ रुपये था. जबकि खुदरा और संबंधित उत्पादों से राजस्व मामूली रूप से घटकर 83.20 करोड़ रुपये रहा, जो पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में 83.52 करोड़ रुपये था. वहीं मार्च 2022 में समाप्त हुए वित्तीय वर्ष के लिए गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया का शुद्ध लाभ 16.20 प्रतिशत बढ़कर 438.06 करोड़ रुपये हो गया. पिछले वित्त वर्ष में कंपनी ने 376.98 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया था.

कैसे रहे हिंदुस्तान कॉपर के नतीजे

सरकारी कंपनी हिंदुस्तान कॉपर का कंसोलिडेटेड नेट प्रॉफिट मार्च तिमाही में 89 करोड़ रुपये रहा है. वहीं कंपनी ने एक साल पहले 37 करोड़ रुपये का घाटा दर्ज किया था. वहीं कंपनी की कारोबार से हुई आय 545 करोड़ रुपये रही है जो कि पिछले वर्ष की इसी अवधि में 522 करोड़ रुपये के स्तर पर थी. कंपनी के मुताबित 31 मार्च, 2022 को समाप्त वर्ष के लिए कुल आय 1,822 करोड़ रुपये था और शुद्ध लाभ 374 करोड़ रुपये रहा. कोलकाता मुख्यालय वाली कंपनी ने वित्त वर्ष 2011 में 110 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था. वहीं कंपनी का एबिटडा मार्जिन बढ़कर 31 फीसदी हो गया. कंपनी बोर्ड ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए पिछले साल के 7.32 प्रतिशत के मुकाबले 23.20 प्रतिशत के लाभांश की सिफारिश की और इस खाते पर भुगतान 112.17 करोड़ रुपये होने का अनुमान है.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ