Ticker

99/recent/ticker-posts

आइकॉनिक रॉयल ऐनफील्ड की बिक्री घटने के बावजूद आयशर के मुनाफे में उछाल, इतने का डिविडेंड देगी कंपनी

आइकॉनिक रॉयल ऐनफील्ड की बिक्री घटने के बावजूद आयशर के मुनाफे में उछाल, इतने का डिविडेंड देगी कंपनी

 नयी दिल्ली. आयशर मोटर्स ने वित्त वर्ष 2021-22 की अंतिम तिमाही के नतीजों की घोषणा कर दी है. कंपनी ने बताया है कि उसका एकीकृत शुद्ध लाभ 31 मार्च, 2022 को समाप्त वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में 16 फीसदी बढ़कर 610 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. कंपनी को वित्त वर्ष 2020-21 की जनवरी-मार्च तिमाही में 526 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ मुनाफा हुआ था।

शेयर बाजारों को भेजी एक सूचना में आयशर मोटर्स ने कहा कि उसकी परिचालन से कुल आय चौथी तिमाही में बढ़कर 3,193 करोड़ रुपये पर पहुंच गई, जबकि वित्त वर्ष 2020-21 की समान अवधि में यह 2,940 करोड़ रुपये थी।

कुल शुद्ध लाभ में वृद्धि

कंपनी ने बताया है कि बीते वित्त वर्ष के लिए कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ बढ़कर 1,677 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. यह वित्त वर्ष 2020-21 में यह 1,347 करोड़ रुपये रहा था. आयशर मोटर्स की बीते वित्त वर्ष के दौरान परिचालन से कुल आय बढ़कर 10,298 करोड़ रुपये पर पहुंच गई. जबकि वित्त वर्ष 2020-21 में यह 8,720 करोड़ रुपये रही थी. यह चौथी तिमाही के साथ-साथ पूरे वित्त वर्ष में कंपनी की सबसे अधिक आय रही।

आइकॉनिक रॉयल ऐनफील्ड की बिक्री घटी

गौरतलब है कि आयशर आइकॉनिक मसल बाइक ब्रैंड रॉयल ऐनफील्ड की पेरेंट कंपनी है. बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में रॉयल ऐनफील्ड बिक्री में 10.4 फीसदी गिरावट आई है. मार्च तिमाही में कंपनी ने 182,125 रॉयल ऐनफील्ड बेची जबकि इससे पिछले वित्त वर्ष की तिमाही में 203,343 रॉयल ऐनफील्ड बिकीं थीं. पूरे वित्त वर्ष (2021-22) में कुल 595,474 रॉयल ऐनफील्ड की बिक्री हुई जो इससे पिछले वित्त वर्ष में बिकीं 609,403 मोटरसाइकल के मुकाबले 2.03 फीसदी कम थीं।

कंपनी का बयान

कंपनी के प्रबंध निदेशक सिद्धार्थ लाल ने कहा है, “बीता साल आयशर मोटर्स के लिए बहुत महत्वपूर्ण रहा, क्योंकि हमने अपने दीर्घकालिक रणनीतिक व्यापार दृष्टिकोण की दिशा में काफी प्रगति हासिल की है.” कंपनी के निदेशक मंडल ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए एक रुपये के फेस वैल्यू वाले शेयर पर 21 रुपये के डिविडेंड की मंजूरी दी है. यह अन्य शेयरधारकों से मंजूरी मिलने के 30 दिन के अंदर दिया जाएगा. कंपनी के शेयर शुक्रवार को 2 फीसदी की बढ़त के साथ 2436 रुपये प्रति शेयर पर बंद हुए।

एस्कॉर्ट्स ने भी जारी किए तिमाही नतीजे

कृषि मशीनरी और कंस्ट्रक्शन उपकरण बनाने वाली एस्कॉर्ट्स लिमिटेड का वित्त वर्ष 2021-22 की चौथी तिमाही में मुनाफा 28.5 प्रतिशत गिरकर 190 करोड़ रुपये रह गया है. इसके अलावा कंपनी को वार्षिक आधार पर समीक्षाधीन तिमाही में 1,879 करोड़ रुपये का राजस्व मिला है जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही के मुकाबले 16 फीसदी कम है. एबिटडा मार्जिन 15.6% से 2.52 फीसदी घटकर 13.1% हो गया है. कंपनी ने मार्च तिमाही में 21,895 ट्रैक्टर बेचे जो एक साल पहले की तुलना में 33 प्रतिशत कम हैं. कंपनी की ट्रैक्टरों के घरेलू बाजार में हिस्सेदारी 1.5 फीसदी घटकर 11.4 फीसदी रह गई है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ