Ticker

99/recent/ticker-posts

DCB Bank और Go Fashion ने जारी किए तिमाही नतीजे, जानिए कैसा रहा Q4 का प्रदर्शन

 

DCB बैंक और Go Fashion ने जारी किए तिमाही नतीजे, जानिए कैसा रहा Q4 का प्रदर्शन

चौथी तिमाही (Quarterly Results) के लिए नतीजे घोषित करने का सिलसिला जारी है. आज निजी क्षेत्र के डीसीबी बैंक (DCB Bank) और गो फैशन ने अपने मार्च तिमाही और बीते वित्त वर्ष के नतीजे जारी किए हैं. डीसीबी बैंक और गो फैशन दोनों ही ने अपने मुनाफे (Profit) में तेज बढ़त की जानकारी दी है. डीसीबी बैंक का मार्च तिमाही में प्रॉफिट 45 प्रतिशत की बढ़त के साथ 113 करोड़ रुपये रहा है. वहीं गो फैशन का चौथी तिमाही में मुनाफा 73 प्रतिशत बढ़ गया है. हालांकि डीसीबी बैंक की एसेट क्वालिटी में कमजोरी देखने को मिली है. बैंक के ग्रॉस एनपीए पिछले साल के मुकाबले कुछ बढ़े हैं. वहीं बैंक ने अपने निवेशकों के लिए डिविडेंड का भी ऐलान किया है.

कैसे रहे डीसीबी बैंक के नतीजे

निजी क्षेत्र के बैंक डीसीबी बैंक का मार्च तिमाही में प्रॉफिट 45 प्रतिशत की बढ़त के साथ 113 करोड़ रुपये रहा है. पिछले साल की इसी तिमाही में बैंक का प्रॉफिट 78 करोड़ रुपये था. वहीं बैंक की कुल आय पिछले साल के मुकाबले 967 करोड़ रुपये से बढ़कर 1,035 करोड़ रुपये तक पहुंच गई है. बैंक की नेट इंट्रेस्ट इनकम भी 311 करोड़ रुपये से बढ़कर 380 करोड़ रुपये के स्तर पर आ गई है. हालांकि मार्च तिमाही में बैंक की एसेट क्वालिटी पर दबाव देखने को मिला है और ग्रॉस एनपीए पिछले साल के मुकाबले 4.13 प्रतिशत से बढ़कर 4.32 प्रतिशत पर पहुंच गये हैं. हालांकि दिसंबर तिमाही के मुकाबले एनपीए में राहत रही है जब ग्रॉस एनपीए 4.78 प्रतिशत पर थे. दूसरी तरफ नेट एनपीए पिछले साल के मुकाबले 2.31 प्रतिशत से घटकर 1.97 प्रतिशत पर आ गए. पूरे साल में बैंक का मुनाफा 14.3 प्रतिशत की गिरावट के साथ 288 करोड़ रुपये रह गया. इसके साथ ही बैंक ने अपने शेयर धारकों के लिए 1 रुपये प्रति शेयर के डिविडेंड का भी ऐलान किया है।

कैसे रहे गो फैशन के नतीजे

गो फैशन ने भी आज अपने मार्च तिमाही के नतीजे जारी किए हैं. नतीजों के मुताबिक चौथी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 72.75 प्रतिशत बढ़कर 12.3 करोड़ रुपये रहा है. पिछले साल की इसी तिमाही में कंपनी को 7.12 करोड़ रुपये का फायदा हुआ था. वहीं कंपनी की कारोबार के जरिए आय 29.41 प्रतिशत की बढ़त के साथ 116.24 करोड़ रुपये रही है, जो कि पिछले साल की इसी तिमाही में 89.82 करोड़ रुपये के स्तर पर थी. कंपनी के सीईओ गौतम सरावगी ने कहा कि कंपनी के द्वारा लागत पर और नियंत्रण करने से एबिटडा और प्रॉफिट में उछाल देखने को मिला है. गो फैशन के कुल खर्चे करीब 21 प्रतिशत बढ़कर 104.27 करोड़ रुपये रहे हैं.पूरे साल के लिए गो फैशन की कारोबार से आय 60 प्रतिशत की बढ़त के साथ 401 करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंचे हैं. कंपनी ने जानकारी दी है कि उसने पिछले वित्त वर्ष में 54 एक्सक्लूसिव ब्रांड आउटलेट शुरू किये हैं

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ