Ticker

99/recent/ticker-posts

मल्टीबैगर ने दिए 20500% रिटर्न, क्या आपके पास है कोई शेयर

 

मल्टीबैगर ने दिए 20500% रिटर्न, क्या आपके पास है कोई शेयर

तानला प्लेटफॉर्म्स (Tanla Platforms): लाइव मिंट में प्रकाशित रिपोर्ट में बताया गया है कि मोदी सरकार के इस 8 साल की अवधि में तानला प्लेटफॉर्म्स का शेयर करीब 6.60 रुपए से बढ़कर 1357.90 रुपए पर आ गया है। इस अवधि में ये शेयर करीब 20,500 फीसदी भागा है। कंपनी बैंकों के ग्राहकों के ट्रांजेक्शन से जुड़े संदेश भेजने की सुविधा देती है। पिछले 8 सालों में भारत में युवा पीढ़ी के लोगों द्वारा मोबाइल यूज करने में आई तेजी के बाद कंपनी के कारोबार में तेजी से वृद्धि हुई है। एंड्रॉइड और स्मार्टफोन के सस्ते होने से कंपनी के कारोबार में तेजी आई है।

बालाजी एमाइंस (Balaji Amines): यह मल्टीबैगर केमिकल स्टॉक पिछले 8 साल की अवधि में 49.50 रुपए से बढ़कर 2990 रुपए के स्तर पर पहुंच गया है जो करीब 5950 फीसदी की तेजी दर्शाता है। इस कंपनी को कोविड के बाद चाइनीज केमिकल कंपनियों, खासकर एमाइन उत्पादकों के बंद होने से फायदा हुआ है।

Minda Industries(मिंडा इंडस्ट्रीज): नरेंद्र मोदी सरकार के 8 वर्षों में यह ऑटोमोटिव कंपोनेंट निर्माता स्टॉक लगभग 16.50 रुपए से बढ़कर 937.80 रुपए के स्तर पर पहुंच गया है। इस अवधि में इसने लगभग 5600 फीसदी की वृद्धि की है। यह स्टॉक एफआईआई और डीआईआई के बीच काफी लोकप्रिय रहा है।

नवीन फ्लोरिन (Navin Fluorine): यह केमिकल स्टॉक मोदी सरकार के 8 सालों के दौरान 82 रुपये से बढ़कर 3895 रुपये के स्तर पर पहुंच गया है। इस अवधि में इस स्टॉक में 4650 फीसदी की तेजी दिखाई है। कंपनी ने हनीवेल इंटरनेशनल (Honeywell International) के साथ हुई बड़ी डील जैसी कुछ और डील के जरिए जोरदार ग्रोथ दिखाई है। रेफ्रिजरेंट्स (refrigerants) और फ्लोराइड्स (fluorides)जैसे प्रोडक्ट की कीमत इंटरनेशनल बाजार में जोरदार तरीके से बढ़ी है जिसके चलते नवीन फ्लोरिन के मार्जिन में मजबूत बढ़त देखने को मिली है।

अल्काईल एमाइन्स केमिकल्स (Alkyl Amines Chemicals):मोदी सरकार के 8 साल के कार्यकाल में यह स्टॉक 78.50 रुपये से बढ़कर 3036 रुपये पर आ गया है। इस अवधि में इसने करीब 3800 फीसदी की बढ़ोतरी दिखाई है। अल्काईल एमाइन्स एलिफेटिक एमाइन्स aliphatic amines) बनाने वाली कंपनी है। अंतराष्ट्रीय बाजार में केमिकल प्रोडक्ट्स और कच्चे माल की कीमतों में बढ़ोतरी का फायदा कंपनी को मिल रहा है।

नरेंद्र मोदी सरकार के 8 साल के कारोबार में सेंसेक्स 24700 के स्तर से बढ़कर 56,000 के स्तर पर पहुंच गया है। इस अवधि में सेंसेक्स में करीब 125 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली है। उसी तरह निफ्टी इसी अवधि में 7,200 के स्तर से बढ़कर 16,650 के स्तर पर पहुंच गया है। इन 8 सालों में निफ्टी में 130 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ