Ticker

99/recent/ticker-posts

Andrew Symonds Death: दौलत बनी एंड्रयू साइमंडस की जिन्दगी की एक विलेन, दोस्त बन गया दुश्मन

 

Andrew Symonds Death: दौलत बनी एंड्रयू साइमंडस की जिन्दगी की एक विलेन, दोस्त बन गया दुश्मन

नई दिल्ली: महज 46 वर्ष की उम्र में जिन्दगी को अलविदा कह गए ऑस्ट्रेलिया (Australia) के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर एंड्रयू साइमंड्स (Andrew Symonds)। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (Cricket Australia) ने उनकी मौत की पुष्टि की। बतां दें की बीते 14 मई (14th May) को एक कार एक्सीडेंट (Car Accident) में ऑस्ट्रेलियाई पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर एंड्रयू साइमंड्स का निधन हो गया है। इस हादसे के बाद पूरा क्रिकेट जगत सदमे में है।

एंड्रयू साइमंड्स का जीवन परिचय

इंग्लैंड के बर्मिंघम (England, Birmingham) में 9 जून 1975 (9 June,1975) को जन्में थे साइमंड्स। वह ऑस्ट्रेलियाई थे लेकिन उनका बचपन इंग्लैंड में ही बीता था। इंग्लैंड में ग्लैमर्गन  (Glamorgan) के खिलाफ हुए मैच में 20 साल की उम्र में साइमंडस ने 16 छक्के लगाए थे। बात करें साइमंड्स के परिवार की तो उनकी पत्नी लौरा (Laura) और दो बच्चे क्लो  (Chloe) और बिली (Billy) हैं।

एंड्रयू साइमंड्स का करियर

विश्व के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडर खिलाड़ियों (World’s Best All Rounder Player) में से एक थे साइमंड्स। वह ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट जगत के एक लेजेंड हैं। भारतीय क्रिकेटरस समेत अन्य देशों के खिलाड़ियों ने भी साइमंड्स को श्रद्धांजलि दी है। बात करें साइमंड्स के करियर में उपलब्धियों की तो उनके बेहतरीन प्रदर्शन के चसते साल (2003) में उन्हें विश्व कप के लिए सेलेक्ट किया गया था। साल (2007) विश्व कप (World Cup) में भी एंड्रयू साइमंड्स ऑस्ट्रेलियाई टीम के सदस्य थे। साइमंड्स आईपीएल (2008) की नीलामी में सबसे महंगे बिकने वाले खिलाड़ी बने। उन्होनें ‘39 आईपीएल मैचों’ (39 IPL Matches) में हिस्सा लिया था। इसमें उनके नाम ‘36.07’ की औसत और ‘129.87’ के ‘स्ट्राइक रेट’ (Strike Rate) से 974 रन (974 Runs) हैं साथ ही साइमंड्स ने लीग में 20 विकेट (Wickets) भी झटके। साल 2011 में उन्होनें अपना आखिरी ‘आईपीएल’ खेला। वह ‘आईपीएल’ में ‘डेक्कन चार्जर्स’ (Deccan Chargers) और ‘मुंबई इंडियंस’ (Mumbai Indians) के लिए खेले थे। तीन साल तक वह ‘डेक्कन चार्जर्स’ टीम के ‘कप्तान’ (Captain) रहे।

एंड्रयू साइमंड्स की उपलब्धियां

साइमंड्स ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 26 टेस्ट में 1462 रन बनाए। 198 वनडे और 14 टी20 मैच खेलें और 24 टेस्ट,133 वनडे के साथ-साथ आठ टी20 विकेट लिए।

एंड्रयू की कमाई

क्रिकेट ही रहा साइमंड्स की मुख्य कमाई का जरिया। उन्होनें घरेलु मैचों के साथ विश्व कप और आईपीएल के जरिए ही कमाया पैसा। साइमंड्स ने साल 2012 में कह दिया था क्रिकेट को अलविदा। हर महीने ‘40 हजार डॉलर’ (40 Thousand Dollars) की कमाई करते थे साइमंड्स। उनकी साल की इनकम ‘5 लाख डॉलर’ (5 Lakhs Dollar) थी।

माइकल क्लार्क और एंड्रयू साइमंड्स की दोस्ती

46 वर्ष की छोटी उम्र में दुनिया को अलविदा कह चुके साइमंड्स को शायद हमेशा इस बात का अफसोस रहा कि कभी उनके दोस्त रहे ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान (Australia’s Former Captain) और धुरंधर बल्लेबाज ‘माइकल क्लार्क’ (Michael Clarke) से उनका रिश्ता बिगड़ गया था। आईपीएल में मिले पैसे बने थे उनकी दोस्ती टूटने की वजह। ‘माइकल क्लार्क’ की बात करें तो वह ऑस्ट्रेलिया के धुरंधर बल्लाजों में से एक हैं और साथ ही वह ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान 2011-2015 भी रह चुके हैं।

क्लार्क पर लगाए आरोप

साइमंड्स ने अपनी मौत से कुछ दिन पहले ही ऑसट्रेलिया के पूर्व कप्तान ‘माइकल क्लार्क’ पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। साइमंड्स ने कहा था कि कप्तान बनते ही बदल गए क्लार्क। जब आईपीएल में साइमंड्स को अच्छे खासे पैसे मिले तो उनकी और क्लार्क की दोस्ती लगभग टूट ही गई थी। उसके बाद ऑस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क ने साइमंड्स को टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया था। टीम क्लार्क ने मीटिंग छोड़कर फिशिंग करने जाने का आरोप लगाया था साइमंड्स पर। 

दरअसल साइमंड्स ने 2015 में क्लार्क की जमकर आलोचना की थी। साइमंड्स पर आरोप लगाते हुए क्लार्क ने भी कहा था कि वह ऑस्ट्रेलिया के वनडे मैच के दौरान नशे में धुत होकर खेलने आए थे। साइमंड्स ने ‘द ब्रेट ली पॉडकास्ट’ (The Brett Lee Podcast) पर अपने और क्लार्क के रिश्ते पर बात की थी। उन्होनें कहा की आईपीएल के पहले सीजन में नीलामी में मुझे बड़ी राशि मिली तो क्लार्क मुझसे जलने लगे थे। 

उन्होनें कहा- जब क्लार्क ऑस्ट्रेलियाई टीम में शामिल किए गए थे, तो मैंने उनके साथ काफी बल्लेबाजी की। मैंने उनका पूरा ख्याल रखा। इससे हमारी दोस्ती काफी गहरी हो गई थी। बाद में मैथ्यू हेडन ने मुझसे कहा था कि जब आईपीएल शुरु हुआ और मुझे आईपीएल में खेलने के लिए काफी पैसे मिले तो क्लार्क को इससे जलन होने लगी थी और पैसा हमारे रिश्ते के बीच आ गया। 

उन्होनें कहा पैसा कभी भी जिंदगी में जहर घोल सकता है और हमारी दोस्ती में भी ऐसा ही हुआ। अब मैं उनका दोस्त नहीं हूं। दरअसल, आईपीएल के पहले सीजन 2008 में ‘धोनी’ (Mahendra Singh Dhoni) सबसे महंगे खिलाड़ी रहे थे। वहीं, साइमंड्स दूसरे सबसे महंगे खिलाड़ी रहे थे। डेक्कन चार्जर्स ने उन्हें ‘1.35 मिलियन डॉलर’ (1.35 Million Dollars) में खरीदा था।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ