Ticker

99/recent/ticker-posts

अडानी ने जनरल एरोनॉटिक्स की 50 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी, जानिए कंपनी के बारे में

 

अडानी ने जनरल एरोनॉटिक्स की 50 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी, जानिए कंपनी के बारे में

अडानी ने जनरल एरोनॉटिक्स की 50 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी, जानिए कंपनी के बारे में

Highlights-अडानी की घोषणा उस दिन आई है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के सबसे बड़े ड्रोन उत्सव- भारत ड्रोन महोत्सव 2022 का उद्घाटन किया।अडानी एंटरप्राइजेस ने कहा कि यह अधिग्रहण 31 जुलाई 2022 तक पूरा होने की उम्मीद है।

नई दिल्ली: अडानी एंटरप्राइजेज ने शुक्रवार को कहा कि उसकी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी अदाणी डिफेंस सिस्टम्स एंड टेक्नोलॉजीज ने जनरल एरोनॉटिक्स में 50 प्रतिशत हिस्सेदारी हासिल करने के लिए एक निश्चित समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं, जो फसल सुरक्षा के लिए रोबोटिक ड्रोन और ड्रोन-आधारित समाधान प्रदान करता है।

अडानी एंटरप्राइजेस ने एक्सचेंज फाइलिंग में कहा, "अडानी डिफेंस सिस्टम्स एंड टेक्नोलॉजीज लिमिटेड अपने सैन्य ड्रोन और एआई/एमएल (कृत्रिम बुद्धिमत्ता/मशीन लर्निंग) क्षमताओं का लाभ उठाएगी और घरेलू कृषि क्षेत्र के लिए एंड-टू-एंड समाधान प्रदान करने के लिए जनरल एरोनॉटिक्स के साथ काम करेगी। यह पूरी तरह से नकद सौदा है और अधिग्रहण के 31 जुलाई तक पूरा होने की उम्मीद है।" 

रिसर्च फर्म रिसर्च एंड मार्केट्स के अनुसार, भारतीय ड्रोन उद्योग ने अनुमान लगाया है कि वित्तीय वर्ष 2025-26 तक देश का मानव रहित हवाई वाहन (यूएवी) बाजार 1.81 बिलियन अमेरिकी डॉलर (या 13,575 करोड़ रुपये) का हो जाएगा। ड्रोन फेडरेशन ऑफ इंडिया का अनुमान है कि यह क्षेत्र पांच वर्षों में 50,000 करोड़ रुपये तक पहुंच जाएगा।

जनरल एरोनॉटिक्स एक एंड-टू-एंड एग्री प्लेटफॉर्म सॉल्यूशन प्रदाता है, जो बेंगलुरु में स्थित है और 2016 में इसे शुरू किया गया है। यह कृषि क्षेत्र के लिए कृत्रिम बुद्धिमत्ता और विश्लेषण का उपयोग करके फसल सुरक्षा सेवाओं, फसल स्वास्थ्य, सटीक-कृषि और उपज निगरानी के लिए रोबोट ड्रोन और ड्रोन-आधारित समाधान प्रदान करता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ