Ticker

99/recent/ticker-posts

मुकेश अंबानी के लिए अच्‍छी खबर, रिलायंस इंडस्‍ट्रीज ने पाया 19 लाख करोड़ का मार्केट वैल्‍यूएशन-बनी पहली भारतीय फर्म

मुकेश अंबानी के लिए अच्‍छी खबर, रिलायंस इंडस्‍ट्रीज ने पाया 19 लाख करोड़ का मार्केट वैल्‍यूएशन-बनी पहली भारतीय फर्म

 रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) 19 लाख करोड़ रुपये के बाजार पूंजीकरण (एम-कैप) को हिट करने वाली पहली भारतीय कंपनी बन गई है। बुधवार को सबसे बड़ी घरेलू कंपनी का शेयर 2 प्रतिशत बढ़कर 2827.10 रुपये प्रति शेयर पर पहुंच गया।


मुकेश अंबानी के लिए अच्‍छी खबर, रिलायंस इंडस्‍ट्रीज ने पाया 19 लाख करोड़ का मार्केट वैल्‍यूएशन-बनी पहली भारतीय फर्म
कंपनी का बाजार मूल्यांकन 19,12,814 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। (Pti)
नई दिल्‍ली, पीटीआइ। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (Reliance Industries Limited) बुधवार को 19 लाख करोड़ रुपये के बाजार मूल्यांकन (RIL Market Cap) को हिट करने वाली पहली भारतीय कंपनी बन गई है। RIL अपने शेयर की कीमत में तेजी के बाद इस मुकाम पर पहुंची है। बुधवार को बीएसई पर बाजार का हैवीवेट स्टॉक 1.85 प्रतिशत उछलकर 2,827.10 रुपये के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया। शेयर की कीमत में तेजी के बाद बीएसई पर सुबह के कारोबार में कंपनी का बाजार मूल्यांकन 19,12,814 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।

मार्च में कंपनी का बाजार मूल्यांकन 18 लाख करोड़ रुपये के पार

इस साल मार्च में कंपनी का बाजार मूल्यांकन 18 लाख करोड़ रुपये के पार चला गया था। पिछले साल 13 अक्टूबर को कंपनी का मार्केट वैल्यूएशन 17 लाख करोड़ रुपये के पार चला गया था।
 
इस साल अब तक यह शेयर 19 फीसदी से ज्यादा चढ़ा

इस बीच, अरबपति मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने संयुक्त अरब अमीरात में 2 बिलियन डालर के TA'ZIZ रासायनिक संयुक्त उद्यम के लिए एक औपचारिक शेयरधारक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। साथ ही पारंपरिक और अपरंपरागत संसाधनों को खोजने और उत्पादन करने में ADNOC के साथ सहयोग करने के लिए एक समझौता किया है। इस साल अब तक यह शेयर 19 फीसदी से ज्यादा चढ़ा है।

पेट्रो केम व्यवसाय बहुत अच्छा कर रहा

स्वास्तिका इन्वेस्टमार्ट लिमिटेड के शोध प्रमुख संतोष मीणा के अनुसार, रिलायंस इंडस्ट्रीज का प्रदर्शन शानदार है। क्योंकि तेल और गैस की कीमतों में उछाल के कारण इसका पेट्रो केम व्यवसाय बहुत अच्छा कर रहा है, जहां सिंगापुर सकल रिफाइनिंग मार्जिन (जीआरएम) ऑल टाइम हाई पर है। इसका दूरसंचार व्यवसाय रूस और यूक्रेन की लड़ाई और मुद्रास्फीति की ऊंची दर से अप्रभावित है, जबकि यह अपने खुदरा व्यापार में तालमेल तलाश रही है। यह अक्षय ऊर्जा व्यवसाय में लगातार अपने कारोबार का विस्तार कर रही है, जो कंपनी के लिए अधिक अवसर खोल रहा है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ