Ticker

99/recent/ticker-posts

रिलायंस के वायकाम18 में 1.8 अरब डालर का निवेश करेंगे जेम्स मर्डोक और उदय शंकर

 

रिलायंस के वायकाम18 में 1.8 अरब डालर का निवेश करेंगे जेम्स मर्डोक और उदय शंकर

बोधी ट्री सिस्टम ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के ब्राडकास्टिंग व्यवसाय वायकाम18 में 1.8 अरब डालर (लगभग 13500 करोड़ रुपये) का निवेश करने का ऐलान किया। इस पर मुकेश अंबानी ने कहा है कि साझेदारी से स्ट्रीमिंग बाजार में बढ़त बनाने में मदद मिलेगी।

रिलायंस के वायकाम18 में 1.8 अरब डालर का निवेश करेंगे जेम्स मर्डोक और उदय शंकर

रिलायंस के वायकाम18 में 1.8 अरब डालर का निवेश करेंगे जेम्स मर्डोक और उदय शंकर

नई दिल्ली, रॉयटर/बिजनेस डेस्क। भारतीयों के बीच स्ट्रीमिंग प्लेटफार्म की लोकप्रियता तेजी से बढ़ रही है। कोरोना वायरस संक्रमण के कारण पैदा हुई स्थितियों के बीच तमाम बड़ी फिल्में औरवेब सीरीज स्ट्रीमिंग प्लेटफार्म पर लॉन्च हुईं और इनकी डिमांड में तेजी आई क्योंकि लॉकडाउन के दौरान लोगों के पास खुद को एंटरटेन रखने का यह बड़े साथ के रूप में उभरे।

ऐसे में रूपर्ट मर्डोक के बेटे जेम्स और डिज्नी इंडिया के पूर्व प्रमुख उदय शंकर द्वारा स्थापित एक इन्वेस्टमेंट कंपनी बोधी ट्री सिस्टम ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के ब्राडकास्टिंग व्यवसाय वायकाम18 में निवेश का ऐलान किया है। बोधी ट्री सिस्टम ने बुधवार को कहा कि वह वायकाम 18 में 1.8 अरब डालर (लगभग 13,500 करोड़ रुपये) का निवेश करेगी।

वहीं, रिलांयस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा है कि साझेदारी से स्ट्रीमिंग बाजार में बढ़त बनाने में मदद मिलेगी। बता दें कि वायकाम 18 में रिलायंस की 51 प्रतिशत हिस्सेदारी है और बाकी हिस्सेदारी वायकामसीबीएस के पास है, जिनसे हाल ही में अपना नाम बदलकर पैरामाउंट ग्लोबल कर लिया है। वायकाम 18 वूट नाम से स्ट्रीमिंग प्लेटफार्म चलाने के साथ ही निक्लोडियन और कामेडी सेंट्रल जैसे टीवी चैनल का भी संचालन करता है।

अभी यह नहीं पता चल सका है कि प्रस्तावित निवेश के बाद वायकाम 18 के प्रबंधन का ढांचा कैसे होगा। हालांकि, माना जा रहा है कि पैरामाउंट ग्लोबल अपनी हिस्सेदारी बरकरार रखेगी और ग्लोबल कंटेंट की आपूर्ति करती रहेगी।

रिलायंस ने रचा इतिहास

इससे पहले रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड बुधवार को 19 लाख करोड़ रुपये के बाजार मूल्यांकन को छूने वाली भारत की पहली कंपनी बन गई है। बीएसई पर बुधवार को सुबह के कारोबार में ही कंपनी का बाजार मूल्यांकन 19,12,814 करोड़ रुपये पर पहुंच गया था

इससे पहले मार्च में कंपनी का बाजार मूल्यांकन 18 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंचा जबकि पिछले साल 13 अक्टूबर को कंपनी का मार्केट वैल्यूएशन 17 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंचा था।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ