Ticker

99/recent/ticker-posts

कुसुम योजना के तहत अपने खेतों में सौर ऊर्जा चालित पंप लगवा सकते हैं किसान

 

कुसुम योजना के तहत अपने खेतों में सौर ऊर्जा चालित पंप लगवा सकते हैं किसान


कुसुम योजना के तहत अपने खेतों में सौर ऊर्जा चालित पंप लगवा सकते हैं किसान

प्रधानमंत्री कुसुम योजना की शुरुआत कर किसानों को फायदा दिया जा रहा है। योजना के तहत अनुदान राशि पर सौर ऊर्जा चालित पंप किसानों को मिलते हैं। सौर ऊर्जा के प्रयोग से बिजली की बचत होगी और उनकी उत्पादन लागत घटाने के साथ-साथ आमदनी में बढ़ोतरी होगी।

प्रधानमंत्री कुसुम योजना 

कुरुक्षेत्र : उपायुक्त मुकुल कुमार ने कहा है कि प्रधानमंत्री कुसुम योजना (PM Kusum Yojana) को अपनाकर किसान खेती में होने वाले का कम कर सकते हैं और अपनी आमदनी बढ़ा सकते हैं। किसानों की आय दोगुनी करने के मामले में यह योजना मील का पत्थर साबित होगी।

उन्होंने कहा कि किसी भी फसल को बोने से लेकर कटाई तक बहुत खर्चा होता है। इसको लेकर सरकार लगातार काम कर रही है और खेती की लागत को कम करने के लिए विभिन्न योजनाओं के माध्यम से किसानों को सहायता प्रदान की जा रही है। सरकार का उद्देश्य है कि किसानों की आमदनी को दोगुना किया जाए। इसी कड़ी में प्रधानमंत्री कुसुम योजना की शुरुआत कर किसानों को फायदा दिया जा रहा है। योजना के तहत अनुदान राशि पर सौर ऊर्जा चालित पंप किसानों को मिलते हैं। सौर ऊर्जा के प्रयोग से बिजली की बचत होगी और उनकी उत्पादन लागत घटाने के साथ-साथ आमदनी में बढ़ोतरी होगी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में लगभग पूरे साल सूरज की रोशनी उपलब्ध रहती है, जिसका भरपूर उपयोग किया जा सकता है। जिला में किसानों को 75 प्रतिशत अनुदान पर सोलर वाटर पंपिंग सिस्टम उपलब्ध कराए जाते हैं। राज्य सरकार के नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग द्वारा खेती की सिंचाई में सोलर पंप सेट को बढ़ावा देने के लिए सोलर पंप की स्कीम को क्रियान्वित किया गया है। स्कीम के तहत किसानों को पंप कीमत के अनुदान पश्चात केवल 25 प्रतिशत ही देय राशि जमा करवानी होती है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ